भागदौड़ भरी जिंदगी में त्वचा की देखभाल करने के कुछ अद्भुत तरीके

0
175
lady skincare mirror

सौंदर्य उद्योग के भीतर और सोशल मीडिया पर सौंदर्य से जुड़े विभिन्न प्रकार के उत्पादों को खरीदने के लिए बहुत जोर दिया जाता है। वास्तव में, यदि इसे सुंदरता की दौड़ कहा जाए तो गलत नहीं होगा क्योंकि इनका मुख्य मकसद सिर्फ उत्पादों की खरीदारी करवाना होता है। यह उत्पाद हमारी त्वचा से जुड़ी सभी समस्याओं का समाधान बिल्कुल नहीं करते। अपितु कई बार हम दूसरों को देखकर कुछ ऐसे सौंदर्य से जुड़े उत्पादों को खरीद लेते हैं जो हमारे लिए जरा भी लाभकारी नहीं होते हैं। कई बार हम इन उत्पादों को खरीद कर, इनमें दी गई दिशा निर्देशों के अनुसार इनका उपयोग करना भी प्रारंभ कर देते हैं परंतु हमें वह लाभ नहीं मिलता जो हमें अपेक्षित था। नीचे हमने आपको कुछ ऐसे तरीके बताए हैं जिससे आप अपनी त्वचा की देखभाल स्वयं कर सकते हैं।

Table Of Contents
  1. त्वचा को चमकदार बनाए रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं
  2. अपने मुहांसों को नहीं हाथ से छुएं और ना ही उन्हें निकालने की कोशिश करें
  3. अच्छी त्वचा के लिए आप हलके गुनगुने पानी से स्नान कर सकते हैं
  4. रेशम या सैटिन के तकिये पर सोना त्वचा को के लिए फायदेमंद होता है
  5. तनाव को प्रबंधित करने के तरीके खोजें
  6. सिगरेट पीने वालों से दूरी बनाकर रखें
  7. त्वचा की प्राकृतिक सुंदरता बनाए रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में नींद लें
  8. त्वचा को अधिक समय तक जवां बनाए रखने के लिए चीनी का त्याग करें
  9. व्यायाम करने की उपयोगिता पहचानें
  10. धूप के सामने बिताने वाले वक्त को सीमित करें
  11. अपने मेकअप ब्रश को समय-समय पर जरूर धुलें

त्वचा को चमकदार बनाए रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं

ऐसा नहीं है कि पानी पीने से आपकी त्वचा सीधे तौर पर हाइड्रेट हो जाएगी परंतु पानी पीने से शरीर की सभी प्रणालियों को बेहतर ढंग से काम करने में मदद मिलती है। पानी के सेवन से शरीर में मौजूद यकृत को विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में सहायता मिलती है। जिसके कारण यह शरीर में दिखने वाली सूजन को कम करके लीवर को सुचारू रूप से कार्य करने के लिए प्रेरित करता है (साथ ही यह काले दिखने वाले घेरों को भी हल्का करने में मदद करता है), इतना ही नहीं पानी के सेवन से त्वचा संबंधित सोरायसिस और एक्जिमा जैसी स्थिति से निपटने में भी मदद मिलती है। हालांकि इस बात का पता कैसे किया जा सकता है कि आप पर्याप्त पानी पी रहे हैं या नहीं। यदि आप यह जानना चाहतें हैं तो अपने पेशाब की जांच करें। यदि आप के पेशाब का रंग गहरा नहीं है तो इसका मतलब आप पर्याप्त पानी पी रहे हैं और यदि उसका रंग गहरा है तो यह पानी पीने का समय है। सामान्य तौर पर पेशाब का रंग हल्का पीला हो सकता है कुछ हद तक नींबू पानी के जैसा।

अपने मुहांसों को नहीं हाथ से छुएं और ना ही उन्हें निकालने की कोशिश करें

हालांकि मुहांसों को फोड़ना कुछ समय के लिए आपको अच्छा लग सकता है, परंतु इसके कारण आपकी त्वचा को अत्यधिक नुकसान पहुंचता है और यह नुकसान कई बार स्थाई तौर पर होता है। पहला कारण तो यह है कि मैकेनिका नामक मुंहासे का एक प्रकार होता है, जो चेहरे को बार-बार छूने की वजह से त्वचा में उपस्थित तेल के द्वारा बैक्टीरिया को वापस रोम छिद्र में धकेलने के घर्षण के कारण पनपता है। दूसरा कारण यह है कि मुहांसों को छूने अथवा छोड़ने से त्वचा पर भूरे रंग का धब्बा पड़ जाता है, जिसे पोस्ट-इंफ्लेमेटरी हाइपरपिग्मेंटेशन कहा जाता है। हम में से कई लोग मुंहासे की जगह उस निशान के साथ रहना पसंद कर लेते हैं। लेकिन समझदारी तो इसमें होगी जब आपके चेहरे पर ना हीं कोई मुंहासे हों और ना ही उनके कोई निशान। इसलिए ध्यान रखें कि यदि आपको मुंहासे हो रखे हैं तो कभी भी उन्हें हाथ से छूकर फोड़ने की कोशिश ना करें।

अच्छी त्वचा के लिए आप हलके गुनगुने पानी से स्नान कर सकते हैं

हमारी त्वचा के सीबम (तेल) में मोम जैसी स्थिरता होती है और जब हम अपनी त्वचा को धोने के लिए गर्म पानी का उपयोग करते हैं तो जरूरत से अधिक गर्म होने के कारण यह सीबम पिघल जाता है। जिसके कारण त्वचा की आवश्यक नमी खो जाती है। नहाने अथवा मुंह धुलने के लिए गुनगुने पानी को प्राथमिकता दें क्योंकि यह हमारी त्वचा के तेल के लिए बिल्कुल उपयुक्त होता है। यह त्वचा की सफाई करने में भी कारगर होता है। यदि आप अधिकतम लाभ उठाना चाहते हैं तो 1 मिनट के लिए अपने चेहरे को किसी अच्छे क्लींजर द्वारा मालिश करके अच्छे से साफ करें।

woman taking shower

रेशम या सैटिन के तकिये पर सोना त्वचा को के लिए फायदेमंद होता है

हालांकि आप अपनी त्वचा में आई झुर्रियां को रगड़ कर हटा नहीं सकते, परंतु आप सोते समय उन्हें पैदा जरूर कर सकते हैं! यदि आप एक तरफ करवट लेकर सोने वालों में से हैं, तो आप अपने चेहरे को तकिए से दबा देते हैं जिसके कारण तकिए और आपके चेहरे की त्वचा के बीच घर्षण उत्पन्न होता है जो परिणामस्वरुप झुर्रियां का रूप ले लेता है। लेकिन अगर आप रेशम के तकिये का इस्तेमाल होते समय करते हैं तो यह आपके चेहरे की त्वचा को फिसलने की जगह देता है। दूसरे शब्दों में कहें तो रेशम के तकिए में सोने से घर्षण की संभावना कम होती है साथ ही यह आपके बालों को होने वाले नुकसान से बचाते हैं।

तनाव को प्रबंधित करने के तरीके खोजें

जब हम तनावग्रस्त या चिंतित होते हैं, तो हमारा शरीर कोर्टिसोल नामक एक हार्मोन छोड़ता है। यह हार्मोन हमारी लड़ाई के प्रतिक्रिया देने तथा तनाव की उस स्थिति को और अधिक सक्रिय करता है। लेकिन लगातार तनाव इस तरह की प्रतिक्रिया आपको थका हुआ महसूस करवाने लगती है जो आपके शरीर पर विपरीत असर डालते हैं। इस स्थिति में विशेष रूप से हमारी त्वचा के लिए, कोर्टिसोल का बढ़ा हुआ स्तर हमारी त्वचा द्वारा नमी बनाए रखने की क्षमता को कम करके त्वचा में तेलों के अधिक उत्पादन को प्रोत्साहित करता है जिसके फलस्वरुप त्वचा अपनी चमक होने लगती है। आगे से जब भी आप चिंतित महसूस करें या आप क्रोधित हो तो अपने चेहरे पर आई लाली या उस हल्की सूजन को ध्यान से देखें वास्तव में इस लाली या सूजन के आने का कारण त्वचा के ठीक नीचे फैली हुई वह रक्त वाहिकाएं हैं जिनमें आपके क्रोध के कारण रक्त का प्रवाह अत्यधिक रूप से बढ़ जाता है और यह आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचाते हैं।

सिगरेट पीने वालों से दूरी बनाकर रखें

जब तंबाकू को सिगरेट के माध्यम से गर्म किया जाता है तो यह अपने आसपास के वातावरण में मुक्त कणों को छोड़ता है, जो त्वचा कोशिकाओं के डीएनए को नुकसान पहुंचाते हैं। जिसके परिणामस्वरूप कोलेजन और इलास्टिन का टूटना होता है। इतना ही नहीं यह रक्त वाहिकाओं को भी संकुचित करता है जो त्वचा के लिए आवश्यक ऑक्सीजन, विटामिन और पोषक तत्वों की मात्रा में कमी करने के रूप में सामने आते हैं। जब जहरीले धुएं के उस कश को बाहर की तरफ निकालते हैं तो यह हमारे चेहरे की त्वचा से टकराता है और ब्लैक हेड्स का कारण बनता है विशेष तौर पर मुंह और गाल के आसपास की त्वचा में। समय के साथ यह उम्र बढ़ने, निर्जलीकरण, काले घेरे, टूटी हुई रक्त वाहिकाओं और समग्र रूप से सुस्त दिखने वाले चेहरे की रंगत की ओर जाता है। अध्ययन यह भी बताते हैं कि धूम्रपान करने वाले, धूम्रपान न करने वालों की तुलना में धीमी गति से ठीक होते हैं। इसका मतलब है कि जब आपको फुंसी होती है तो यदि आप धूम्रपान करते हैं तो इसे ठीक होने में अधिक समय लग सकता है जिससे पोस्ट-इन्फ्लेमेटरी हाइपरपिग्मेंटेशन तक हो सकता है।

no smoking

त्वचा की प्राकृतिक सुंदरता बनाए रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में नींद लें

सौंदर्य की असली कुंजी चैन भरी नींद होती है। जब हम सोते हैं तो हमारा शरीर कोशिकाओं को ठीक करके उन्हें पुनः पुनर्जीवित करता है। नींद हमारे भीतर तनाव से संबंधित हार्मोन कोर्टिसोल को कम करती है। जिसे त्वचा पर खिंचाव के निशान के लिए ज़िम्मेदार माना जाता है। अच्छी चैन भरी नींद हमारे शरीर में नींद के हार्मोन मेलाटोनिन को भी बढ़ाती है। जो कि महीन रेखाओं, झुर्रियों और त्वचा के कैंसर से लड़ने के लिए एक एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करतें हैं। स्नूज़ करते समय भी हम कोलेजन का उत्पादन करते हैं, जो हमारे चेहरे को मोटा और झुर्रियों से मुक्त रखने में मदद करता है। इतना ही नहीं सोते समय हमारे शरीर से अच्छी मात्रा में मानव विकास संबंधित हार्मोन का उत्पादन होता है जो हमें दैनिक आधार पर होने वाले नुकसानों की मरम्मत करने में मदद प्रदान करते हैं।

त्वचा को अधिक समय तक जवां बनाए रखने के लिए चीनी का त्याग करें

कभी-कभी हमारे खाने का सीधा असर हमारी त्वचा पर दिखाई पड़ने में थोड़ा समय लग जाता है या फिर यूं कहें कि कभी-कभी हमारी त्वचा को यह समझने में थोड़ा समय लगता है कि हमने पिछले सप्ताह क्या खाया था। यदि आपके ऊर्जा स्रोत में मुख्य रूप से चीनी और परिष्कृत कार्बोहाइड्रेट शामिल हैं, तो आपको जल्द ही इनके दुष्प्रभाव अपनी त्वचा के ऊपर दिखाई पड़ने शुरू हो सकते हैं। बहुत अधिक एक्सफ़ोलीएटिंग एसिड आपकी त्वचा की सुरक्षात्मक घेरे को हटा सकता है, ठीक उसी तरह जैसे बहुत अधिक चीनी, इंसुलिन में अत्यधिक बढ़त (रक्त में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित करने वाले अग्न्याशय द्वारा निर्मित हार्मोन) और सूजन का कारण बन सकती है। यह प्रक्रिया एक एंजाइम का उत्पादन करती है जो कोलेजन फाइबर से जुड़कर उन्हें तोड़ देता है और जिससे उनकी ताकत और लचीलापन कम हो जाता है। यदि आप देख रहे हैं कि आपकी त्वचा सूर्य की रोशनी से होने वाली क्षति (टैनिंग) के प्रति अधिक संवेदनशील हो रही है, त्वचा में कसावट की कमी हो रही है, मुँहासे दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं और समय से पूर्व आप के चेहरे में झुर्रियों और रेखाएँ दिखाई देने लगी हैं, तो यह समय है कि आप अपने आहार के ऊपर पूरा ध्यान दें। इंसुलिन बढ़ने से आपकी तेल ग्रंथियां ओवरड्राइव में आ जाती हैं, जिससे मुँहासे बनने के लिए उपयुक्त स्थल बन जाता है। इसी कारण आपको चीनी और परिष्कृत कार्ब्स से बने खाद्य पदार्थों को अपनी आहार प्रणाली से दूर रखना चाहिए।

व्यायाम करने की उपयोगिता पहचानें

हम सभी जानते हैं कि पसीना निकलना हमारे पूरे शरीर के लिए बहुत अच्छा होता है, लेकिन इसके कुछ त्वचा संबंधित लाभ भी होते हैं। जब हम चलते हैं, तो हम अपने रक्त को प्रसारित करते हैं जो हमारी सभी कोशिकाओं को ऑक्सीजन और पोषक तत्व पहुंचातें हैं। यह न केवल हमारे शरीर को एक त्वरित चमक प्रदान करता है, बल्कि यह हमारी त्वचा को तेजी से ठीक करने में भी मदद करता है। व्यायाम करने का एक और लाभ यह है कि यह तनाव को कम करने में मदद करता है और साथ ही कोर्टिसोल के स्तर को भी कम करता है।

lady exercising

धूप के सामने बिताने वाले वक्त को सीमित करें

जी हां, सनस्क्रीन का उपयोग करें, लेकिन एक सीमित तौर पर। ऐसा अनुमान लगाया गया है कि 90% त्वचा का एजिंग का शिकार होना सूर्य के कारण होता है। विशेष रूप से उन लोगों के ऊपर जिनकी त्वचा का रंग गोरा होता है। साथ ही त्वचा के कैंसर होने का खतरा भी बढ़ जाता है। इस कारण यह जरूरी है कि आप सूर्य के सामने बिताने वाले अपने समय को सीमित करें। इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि आपने सनस्क्रीन लगाई हुई है तो आप ज्यादा समय के लिए सूर्य के सामने वक्त बिता सकते हैं। अच्छा होगा यदि आप सूर्य के संपर्क में कम आएं और यदि आप बाहर घूमने निकलें हैं तो छांव में घूमें। बाहर घूमते समय अपनी आंखों की सुरक्षा करना ना भूलें, क्योंकि यहां आप सनस्क्रीन का प्रयोग भी नहीं कर सकते हैं। स्क्विंटिंग आपकी आंखों की रक्षा नहीं करता है और यदि आप सूर्य की रोशनी में व्यायाम करते हैं तो अपनी आंखें और माथे के क्षेत्र पर अधिक रेखाएं अथवा झुर्रियों के आने के लिए तैयार रहें। बेहतर होगा कि आप छांव में व्यायाम करें।

अपने मेकअप ब्रश को समय-समय पर जरूर धुलें

जिस तरह समय के साथ आपका मेकअप पुराना हो जाता है, ठीक उसी तरह मेकअप के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले ब्रश में भी समय के साथ धूल, मिट्टी, तेल, पसीना, बैक्टीरिया इत्यादि जमा हो जाते हैं। इसलिए यह आवश्यक है कि आप नियमित रूप से अपने मेकअप ब्रश को साफ करते रहें। यदि आप नियमित रूप से अपने मेकअप ब्रश को साफ नहीं करते तो मेकअप करते समय यह आपके चेहरे में धूल, मिट्टी समेत कई प्रकार के बैक्टीरिया को भी स्थानांतरित कर देते हैं, जो परिणाम स्वरूप मुहांसों और चेहरे की अन्य परेशानियों के रूप में सामने आते हैं। अपने मेकअप ब्रश को साप्ताहिक रूप से साफ करना सबसे अच्छा अभ्यास माना जाता है!

Leave a Reply