Home स्वास्थ्य लेट्यूस क्या है? जानिए लेट्यूस के स्वास्थ्य लाभ एवं अन्य बातें

लेट्यूस क्या है? जानिए लेट्यूस के स्वास्थ्य लाभ एवं अन्य बातें

0
132
lettuce leaves

एक बढ़िया सलाद बनाने के लिए लेट्यूस के पत्ते बहुत ज़रूरी हैं। ये हरी पत्तियां अपने कुरकुरे एवं बेहतरीन ताजे स्वाद के लिए जानी जाती हैं और सबसे अधिक इस्तेमाल की जाने वाली सब्जियों में से एक हैं। लेट्यूस के पत्तों की उत्पत्ति हजारों साल पहले की है। सबसे पहले मिस्र की सभ्यता के दौरान इसकी खेती पहली बार की गई थी। यह 16वीं और 18वीं शताब्दी के दौरान अत्यधिक लोकप्रिय हुआ और इसके पाक और औषधीय गुणों के कारण व्यापक रूप से उपयोग किया गया। हालांकि, इसके विषय में एक गलत धारणा भी है कि इसकी पत्तियों में शून्य पोषण होता है, लेकिन यह सच्चाई के बिल्कुल विपरीत है! आपकी त्वचा, बालों और स्वास्थ्य के लिए लेट्यूस के पत्तों के फायदों को जानने के लिए इस लेख को पढ़ें।

Table Of Contents
  1. लेट्यूस क्या है?
  2. लेट्यूस की पत्तियों के प्रकार
  3. लेट्यूस के पत्तों से मिलने वाला पोषण
  4. त्वचा, बाल एवं स्वास्थ्य के लिए लेट्यूस के पत्तों से होने वाले लाभ
  5. लेट्यूस के अधिक सेवन से होने वाले साइड इफेक्ट्स

लेट्यूस क्या है?

लेट्यूस एक हरी पत्तेदार सब्जी है, जिसका वैज्ञानिक नाम लैक्टुका सैटिवा है। इसे मूल रूप से एक औषधीय जड़ी-बूटी के रूप में इस्तेमाल किया जाता था और बाद में विभिन्न प्रकार के व्यंजन बनाने में इसका इस्तेमाल किया जाने लगा। लेट्यूस की पत्तियां पश्चिमी देशों में सबसे अधिक उपयोग की जाने वाली सामग्री हैं, खासकर सलाद, बर्गर और अन्य स्नैक्स में।

लेट्यूस की पत्तियों के प्रकार

लेट्यूस की पत्तियां चार अलग- अलग प्रकार की होती हैं जिनके नाम क्रमशः आइसबर्ग, बटरहेड, लीव्स और रोमाईन है। रोमाईन लेट्यूस और आइसबर्ग लेट्यूस, लेट्यूस की दो अलग-अलग किस्में हैं। कैलोरी और पोषण के स्तर के मामले में वे काफी हद तक एक जैसे हैं लेकिन सूक्ष्म पोषक तत्वों में एक दूसरे से भिन्न हैं। आइसबर्ग लेट्यूस में 95% पानी और 5% पोषण पाया जाता है। दूसरी ओर, रोमाईन लेट्यूस में पोषण का उच्च प्रतिशत पाया जाता है, विशेष रूप से विटामिन के, ए और फोलेट, जो इसे अधिक वांछनीय किस्म का बनाते हैं।

  • आइसबर्ग लेट्यूस लगभग हर सलाद में इस्तेमाल होने वाला आम लेट्यूस है। यह खाने में कुरकुरा होता है।
  • बटरहेड कोमल पत्तियों के साथ एक नाजुक प्रकार का लेट्यूस है। ये विभिन्न प्रकार के व्यंजनों में ऊपर से सजाने के रूप में उपयोग किया जाता हैं।
  • लीव्स लेट्यूस हरे और लाल लेट्यूस के पत्ते बहुत ही नाजुक किस्म के होते हैं, जिन्हें केवल परोसने से पहले ही रखा जाता है।
  • रोमाईन लेट्यूस के स्वाद में कड़वापन होता है और परंतु अंदर से खाने में यह थोड़ा कुरकुरा और मीठा होता है।
lettuce leaves

लेट्यूस के पत्तों से मिलने वाला पोषण

प्रति 100 ग्राम लेट्यूस के पत्तों से मिलने वाला पोषण नीचे दिया गया है:

  • कुल कैलोरी: 15
  • कुल कार्बोहाइड्रेट: 2.9 ग्राम
  • कुल वसा: 0.2 ग्राम
  • कोलेस्ट्रॉल: 0 मिलीग्राम
  • सोडियम: 28 मिलीग्राम
  • पोटेशियम: 194 मिलीग्राम
  • आहार फाइबर: 1.3 ग्राम
  • प्रोटीन: 1.4 ग्राम
  • विटामिन ए: 148%
  • विटामिन सी: 15%
  • विटामिन बी 6: 5%

यदि आप सोच रहे हैं कि लेट्यूस के पत्तों को कैसे खाया जाए, तो हम आपकी मदद करते हैं यह बताने में कि आप कितने विभिन्न तरीकों से अत्यंत लाभकारी है लेट्यूस की पत्तियों का उपयोग कर सकते हैं। आपके भोजन में लेट्यूस की पत्तियों को शामिल करने के कई तरीके हैं, जो न केवल समग्र स्वाद और बनावट को बढ़ाते हैं, बल्कि आपके पकवान का पोषण मूल्य भी इनके इस्तेमाल से बढ़ जाता है:

  • लेट्यूस की पत्तियां सबसे अच्छे तरह से कच्ची खाई जाती हैं। उन्हें ज्यादा पकाने से उनमें मौजूद सभी पोषक तत्व कम हो जाते हैं।
  • कटे हुए सलाद में लेट्यूस की पत्तियों को उपयोग किया जाता हैं।
  • आप स्प्रिंग रोल बनाते समय आटे की जगह लेट्यूस की पत्तियों का उपयोग कर सकते हैं।
  • आप नियमित टैको में लेट्यूस की पत्तियों का उपयोग कर सकते हैं।
  • सैंडविच और बर्गर में लेट्यूस की पत्तियों को जोड़ना एक बढ़िया तरीका हो सकता है।

त्वचा, बाल एवं स्वास्थ्य के लिए लेट्यूस के पत्तों से होने वाले लाभ

लेट्यूस के पत्ते अनिद्रा का इलाज करतें हैें

एंटीस्पास्टिक और दर्द नाशक प्रभाव लेट्यूस की पत्तियों में मौजूद होतें हैं। इसकी रोजाना 5-6 पत्तियों का सेवन अच्छी नींद सुनिश्चित करता है। इसके लिए आप लेट्यूस की पत्तियों से आसानी से जूस तैयार कर सकते हैं। इस उपाय का नियमित रूप से उपयोग करने से आपको अनिद्रा जैसी बीमारी से मुक्ति मिलने में मदद मिल सकती है तथा अच्छी नींद प्राप्त होती है।

लेट्यूस के पत्ते त्वचा के लिए एक टोनर के रूप में काम करतें हैें

चेहरे की त्वचा को टोन करने के लिए आप विभिन्न फेस मास्क में लेट्यूस के पत्तों के पेस्ट या रस का उपयोग आसानी से कर सकते हैं। यह निश्चित रूप से आपकी त्वचा बहुत लाभ पहुंचाएगा, जिसे आप स्वयं देख सकते हैं। यह त्वचा को अधिक चमकदार और और युवा बनाए रखने में मदद करता है।

लेट्यूस के पत्ते शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालतें हैें

शरीर और त्वचा से विषाक्त पदार्थों को निकालना, लेट्यूस से जुड़े लाभों में से एक है, जो केवल इसमें पाए जाने वाले फाइबर और एंटी-ऑक्सिडेंट के कारण होता है। यह मुक्त कणों के नुकसान के साथ-साथ शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालकर त्वचा को इन हानिकारक पदार्थों से मुक्त कराने में मदद करता है। यह हमारे शरीर के लिए लेट्यूस के महत्वपूर्ण उपयोगों में से एक है।

लेट्यूस के पत्ते ओमेगा एसिड का समृद्ध स्रोत होतें हैें

ओमेगा फैटी-3 एसिड, शरीर द्वारा उचित कामकाज के लिए बहुत आवश्यक पोषक तत्वों में से एक है। इसके साथ ही, ओमेगा फैटी-6 एसिड भी कई प्रकार के लेट्यूस में मौजूद होता है, जो इसे शरीर की इस पोषक तत्व की आवश्यकता को पूरा करने के लिए परिपूर्ण बनाता है।

lettuce leaves

लेट्यूस त्वचा को पोषण देने में मदद करता है

लेट्यूस के पत्तों में विटामिन-ए का स्तर काफी अधिक होता है। यह एक ऐसा पोषक तत्व है जो त्वचा की कोशिकाओं की मरम्मत और कायाकल्प करने में मदद करता है। यह परिपूर्ण तरीके से त्वचा को पुनर्जीवित करने में मदद करता है। इसके लिए आपको अपने दैनिक आहार में लेट्यूस के लगभग 5-6 पत्तों को जोड़ना है।

लेट्यूस त्वचा को सूर्य से होने वाले नुकसान से बचाता है

हमारी त्वचा के लिए लेट्यूस की पत्तियों के लाभ कई हैं। लेट्यूस की पत्तियों के अंदर विटामिन-सी और विटामिन-ई का प्रभावी संयोजन मौजूद होता है। यह त्वचा को स्वस्थ और फिट रखने में मदद करता है। साथ ही यह त्वचा को एक सुरक्षात्मक परत देने में भी मदद करता है, जो इसे सूरज की हानिकारक किरणों से बचाता है। यह आंखों में धब्बेदार, अध:पतन और मोतियाबिंद को रोकने में भी मदद करतें हैं और इन महत्वपूर्ण अंग को अन्य नुकसानों से भी बचाता है।

लेट्यूस के पत्तों का सेवन चिंता के स्तर को कम करने में मदद करता है

चिंता के स्तर को कम करने में मदद करना भी लेट्यूस के पत्तों के लाभों में से एक है। लेट्यूस का सेवन आप की नसों को शांत करके आपको चिंता से मुक्त करके सुखदायक एहसास देतें हैं। यहां तक कि यह अवसाद और कई प्रकार की चिंता से संबंधित मुद्दों के इलाज में सकारात्मक प्रभाव डालता है। यह निश्चित रूप से आपके न्यूरोलॉजिकल विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

गर्भावस्था के दौरान लेट्यूस के पत्तों को चुनने की सलाह दी जाती है

बहुत सी महिलाओं ने गर्भावस्था के दौरान लेट्यूस के लिए क्रेविंग होने के विषय में चर्चा की है। अपने जीवन के इस महत्वपूर्ण चरण के दौरान लेट्यूस निश्चित रूप से आपके लिए बहुत अच्छा साबित हो सकता है। इसमें आपके बच्चे के लिए महत्वपूर्ण एंटी-ऑक्सीडेंट सहित कई महत्वपूर्ण विटामिन और खनिज शामिल होतें हैं। बेहतर पोषण के लिए रोमाईन जैसे लेट्यूस की किस्मों को चुनने की सलाह दी जाती है।

लेट्यूस के पत्ते हड्डियों को मजबूत करतें हैं

हरी पत्तीदार सलाद के कई लाभों में से एक आपकी हड्डी की संरचना को मजबूत करना है। लेट्यूस में पोषक तत्वों का ढेर होता है जो आपकी हड्डियों और दांतों को मजबूत करता है। इसमें आपकी हड्डियों के घनत्व को बेहतर बनाने के लिए कैल्शियम, विटामिन के और अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्व अच्छी मात्रा पाई जाती हैं। अध्ययन यह भी बताते हैं कि लेट्यूस के नियमित सेवन से ऑस्टियोपोरोसिस के जोखिम तक को कम किया जा सकता है।

लेट्यूस के पत्तों का सेवन मस्तिष्क स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है

अध्ययन बताते हैं कि लेट्यूस मस्तिष्क के कार्यों को और बेहतर करने में मदद करता है और बढ़ती उम्र के साथ होने वाली संज्ञानात्मक क्षमताओं की कमी को भी धीमा करता है। विटामिन-के, ल्यूटिन, बीटा-कैरोटीन और फोलेट की उच्च मात्रा मस्तिष्क की कोशिकाओं को उत्तेजित करतीं हैं और बेहतर कामकाज में सहायता करतीं हैं। यहां तक कि यह प्रतिक्रिया दरों में तेजी लाने में मदद करता है।

लेट्यूस कैंसर जैसी भयानक बीमारी से लड़ने में मदद करता है

लेट्यूस को कैंसर से लड़ने वाली टॉप 10 सब्जियों में से एक माना जाता है। अध्ययनों के द्वारा यह साबित हो चुका है कि लेट्यूस कई प्रकार के कैंसर विशेष रूप से, स्तन कैंसर पर प्रभावी ढंग से अंकुश लगा सकता है। लेट्यूस के नियमित सेवन से कैंसर के शिकार होने की संभावना कम हो सकती है। ल्यूटिन नामक एक यौगिक को कैंसर कोशिकाओं को मारने और ट्यूमर के विकास को कम करने के लिए कारगर दिखाया गया है।

lettuce leaves

लेट्यूस के पत्तों का सेवन तंत्रिका कोशिकाओं को नुकसान पहुंचने से बचाता है

शोध के द्वारा यह साबित होता है कि लेट्यूस, न्यूरॉन्स को मजबूत करके कई तंत्रिका अपक्षयी रोगों जैसे पार्किंसंस आदि को रोकने में मददगार साबित हो सकता है। लेट्यूस में मौजूद कई प्रकार के यौगिकों को इन न्यूरॉन्स को खत्म होने से रोकने के लिए जाने जातें हैं, जो इन तंत्रिका विकारों का कारण बनतें हैं। इसलिए इन पत्तियों को अपने रोजमर्रा के आहार में शामिल करना उचित है।

नियमित रूप से लेट्यूस का सेवन आपकी दृष्टि को बेहतर बनाता है

बेहतर दृष्टि के लिए, डॉक्टर पत्तेदार साग खाने की सलाह देते हैं जिसमें विशेष रूप से लेट्यूस शामिल होता है। नियमित रूप से लेट्यूस का सेवन रेटिना के धब्बेदार, अध:पतन को कम करने में मदद करता है और दृष्टि हानि की संभावना से भी एक हद तक बचाता है। लेट्यूस में मौजूद ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन आंखों की कोशिकाओं का पोषण करते हैं और आपकी दृष्टि को तेज बनाते हैं।

लेट्यूस की पत्तियों का सेवन हृदय विकार को रोकता है

दिल को स्वस्थ रखना लेट्यूस की पत्तियों से जुड़े फायदों में से एक है। बीटा कैरोटीन और विटामिन-सी हृदय को स्वस्थ रखने के लिए खराब कोलेस्ट्रॉल का ऑक्सीकरण करता है। यह पट्टिका निर्माण को भी दूर रखता है। लेट्यूस एक अच्छा स्नैक होने के साथ-साथ सेहत के लिए अच्छा भोजन है।

लेट्यूस का लगातार सेवन आपके बालों के लिए बहुत फायदेमंद है

लेट्यूस विटामिन-K से भरपूर होता है, जो बालों की जड़ों के लिए बहुत आवश्यक विटामिन माना गया है इससे बालों में मजबूती आती है। इसके अलावा, लेट्यूस के लगातार सेवन से, बालों के झड़ने की रोकथाम भी काफी हद तक संभव हो जाती है। इसके साथ, चूंकि लेट्यूस पोटेशियम से भरपूर होता है इसलिए यह बालों को समय से पहले सफ़ेद होने से रोकता है और बालों की बनावट को और अच्छा तथा स्वस्थ बनाता है।

lettuce leaves

लेट्यूस वजन कम करने में मदद करता है

पोषक तत्वों के उच्च स्तर तथा वसा और कैलोरी के निम्न स्तर के साथ इस आहार में फाइबर के साथ एक अद्वितीय संयोजन होने के कारण यह वजन को नियंत्रण में रखने में मदद करता है। यह शरीर से संचित वसा को बाहर निकालने में भी मदद करता है। यह उचित वजन घटाने में मदद करता है, जो शरीर को कई समस्याओं को दूर रखने में भी मदद करता है।

लेट्यूस शरीर की अंदरूनी सूजन से लड़ता है

लेट्यूस में शरीर की अंदरुनी सूजन (इन्फ्लेमेशन) से लड़ने के लिए कई एंटी-इन्फ्लेमेटरी एजेंट होते हैं, जिसमें गठिया, रक्त का थक्का जमना, ऊतक क्षति आदि शामिल हैं। यह आपकी हड्डियों को मजबूत करने और कोशिकाओं को बेहतर ऑक्सीजन की आपूर्ति प्रदान करने तथा विटामिन सी और कैल्शियम की आपूर्ति करता है। शरीर में दर्द और सूजन को कम करने के लिए लेट्यूस की सबसे अच्छी किस्मों में से “रोमाइन लेट्यूस” को माना गया है।

लेट्यूस एनीमिया को रोकता है तथा उसका इलाज करने में मदद करता है

रक्त में हीमोग्लोबिन के स्तर में सुधार और लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण के लिए, शरीर को जिन आवश्यक खनिज पदार्थों की आवश्यकता होती है, उन्हें हम आयरन के नाम से जानते हैं। यह लाल पत्ती की सलाद आपके स्वास्थ्य को यह महत्वपूर्ण स्वास्थ्य लाभ पहुंचा सकतीं हैं। इसलिए, यह रक्त में आयरन की कमी के कारण होने वाली एनीमिक जैसी स्थिति के इलाज में मदद करता है।

लेट्यूस के अधिक सेवन से होने वाले साइड इफेक्ट्स

लेट्यूस आम तौर पर नियमित रूप से सेवन करने के लिए सुरक्षित होता है लेकिन कुछ स्थितियों में इसका आपके शरीर के ऊपर दुष्प्रभाव भी हो सकता है। इसके अलावा, लेट्यूस को जरूरत से ज्यादा खाने से कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं जैसे:

  • पेट का खराब होना
  • जी मिचलाना
  • खट्टी डकार
  • कीटनाशकों की अधिक मात्रा के कारण एलर्जी प्रतिक्रियाएं

NO COMMENTS

Leave a Reply