जानिये टैटू की दुनिया के चकाचौंधी 21 सच

0
286

१८९१ में पहली इलेक्ट्रॉनिक टैटू गोदने की मशीन का आविष्कार हुआ.

सबसे पुरानी टैटू की स्याही की बनाने की विधि में जिन चीज़ों का प्रयोग हुआ है, वे हैं – मिस्त्र के पेड़ की छाल, जंग लगा हुआ पीतल, सिरका, कीड़े के अंडे & लीक का जूस.

लगभग 5% अमेरिकन लोगों ने अपना एक टैटू छुपाने के लिए उसके ऊपर दूसरा टैटू बनवा लिया है.

यह पाया गया है की हर १०० टैटू गुदवाये लोगों में ५८% महिलायें होती है और लगभग ४2% पुरुष होते हैं.

टैटू बनाने वाली मशीन को टैटू गन भी कहते हैं. यह एक मिनट में ५० से ३००० बार त्वचा में बारीक छेड़ कर सकती है. ये त्वचा में 1 मिलीमीटर गहराई में स्याही छोडती है.

टैटू हटवा देने की दौड़ में महिलाएं पुरुषों से लगभग दो-गुने के अंतर से आगे हैं.

किसी भी इंसान की त्वचा पर टैटू का सबसे पुराना प्रमाण ‘ओत्ज़ी – द आइस-मैन’ के शरीर से मिलता है. ये ३३७० और ३१०० BC के बीच की बात है. उनका शरीर ऐल्प्स पर्वत श्रंखला में मिला था और उनके शरीर में ६१ टैटू थे. ये सभी टैटू कार्बन की स्याही में थे एवं लाइन तथा बिंदु के रूप में थे.

जॉर्ज पॉल मैक-लारेन का विश्व में सबसे अधिक टैटू गुदवाने का कीर्तिमान है. इनके शारीर में लगभग ९९.९% त्वचा टैटू से ढकी है. यहाँ तक कि पलकों के अंदर, मुह के अंदर और कान के अंदर भी टैटू गुदवा रखे हैं.

सबसे ज्यादा प्रसिद्ध टैटू डिजाईन में ‘दिल’ और ‘देवदूत’ या ‘परी’ का नाम आता है.

विश्व के सबसे कीमती टैटू बनाने वाले आर्टिस्ट (कलाकार) का नाम है – स्कॉट कैम्पबेल. ये टैटू बनाने के लिए लगभग १००० डॉलर प्रति घंटा लेटे हैं (लगभग ७०,००० रूपए). और ये शनिवार, रविवार को काम नहीं करते.

संगीतकार टॉमी ली ने गिनेस बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल होने के लिए २००७ में हवा में (वायुयान के अंदर) एक टैटू बनवाया.

टैटू बनवाना तीन देशों में गैरकानूनी है – इरान, टर्की, सऊदी अरब

सरकारी नौकरी में कार्यरत लगभग ८% लोगों के शरीर में टैटू होता है.

सबसे लम्बे टैटू गोदने का रिकॉर्ड ५६ घंटे ३० मिनट का है. इस दौरान टैटू कलाकार क्रिस्टोफ बर्नस ने ११ टैटू बनाये और उन्हें हर एक घंटे के बाद केवल 5 मिनट आराम करने की आज़ादी थी.

देखा गया है की लगभा २३% लोगों को टैटू बनवाने के अपने फैसले पर अफ़सोस होता है. सबसे बड़ा अफ़सोस टैटू पर किसी का नाम खुदवाने का होता है.

टैटू बनाना सीखने के वक़्त कलाकार ज़्यादातर फलों पर प्रैक्टिस करते हैं. मुख्यतया संतरे और नीबू की चमड़ी इंसानों की त्वचा के समकक्ष अनुभव देती है.

यदि संक्रमित सुई से टैटू बना दिया जाये तो जानलेवा बीमारियाँ हो सकती हैं, जैसे हेपेटाइटिस बी, सिफिलिस, एड्स इत्यादि. हालांकि अभी तक विश्व में एक भी ऐसा केस सामने नहीं आया जिसमें टैटू करवाने से एड्स हुआ हो.

full arm colored tattoo is seen as a sign of independent thinking

लगभग १४% अमेरिकन लोगों के शरीर में एक टैटू होता है.

महिलाएं सबसे ज्यादा एड़ी में टैटू गुदवाना पसंद करती हैं, और पुरुष बाहों में.

दुनिया का सबसे मंहगा टैटू ९,२४,००० डॉलर का है (लगभग 6 करोड़ रूपए). इसमें स्याही की जगह आधे कैरट के हीरे त्वचा के अंदर गुदवाये गए हैं.

यदि विश्व के देशों की बात करें, तो न्यूज़ीलैंड के लोग सबसे ज्यादा टैटू करवाते हैं.

सोवियत रूस में कई बार कैदी लेनिन और स्टॅलिन के टैटू गुदवाते थे. वो ऐसा इसलिए करते थे कि मृत्युदंड मिलने पर उन्हें गार्ड गोली नहीं मार सकेंगे. क्योंकि रूस में राष्ट्रीय नेता के चित्र के ऊपर गोली मारना मना था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here