जानिये इटली से जुड़े हुए 55 बेहद दिलचस्प तथ्य

0
22
italy boat
  1. इटली का नाम “इटालिया” शब्द से रखा गया। “इटालिया” शब्द का मतलब है “बछड़े की भूमि”, ऐसा शायद इसलिए क्योंकि “बैल” दक्षिण इटालियन जनजातियों का प्रतीक था।
  2. “कांटा” (चम्मच की तरह खाने में इस्तेमाल होने वाला) इटली में, किसी भी अन्य यूरोपीय देश से पहले लोकप्रियता हासिल कर चुका था। क्योंकि इसने इटालियंस को उनका प्रिय भोजन मैक्रोनी या स्पेग्टी को और अधिक स्टाइल से खाने का अवसर दिया।
  3. मध्य इटली में, एक फव्वारा है जिसमें दिन के 24 घंटे रेड वाइन बहती है। यह सभी के लिए मुफ्त में उपलब्ध है।
  4. वेटिकन सिटी दुनिया का एकमात्र ऐसा राष्ट्र है, जो अपने फाटकों को रात में स्वयं बंद कर लेता है। इसकी अपनी खुद की फोन कंपनी, रेडियो, टीवी स्टेशन, मुद्रा और टिकट है। यहां तक कि इसकी अपनी खुद की सेना है और ऐतिहासिक स्विस गार्ड भी हैं।
  5. सदियों से हो रही खेती के कारण इटली ने अपनी अधिकांश प्राकृतिक वनस्पति और जीव-जंतुओं को खो दिया है। अत्यधिक शिकार के कारण इसके अधिकांश प्राकृतिक वन्यजीव भी गायब हो चुके हैं।
  6. इटली का आधिकारिक नाम इतालवी गणराज्य (रिपब्लिका इटालियाना) है।
  7. इटली में दुनिया के किसी भी देश से कहीं ज्यादा प्रति वर्ग मील कृतियां होंगी। दूसरे शब्दों में कहा जाए तो इटली में मौजूद कृतियां दुनिया के किसी भी देश में उपस्थित कृतियों से बहुत अधिक हैं।
  8. इटली का तकरीबन चौथा-पांचवा हिस्सा पहाड़ी या पहाड़ियों से भरा है।
  9. सन् 2007 में रोस्को नाम की एक कुत्ते ने टस्कनी में एक ट्रफल (मशरूम) की खोज की। जिसका वजन 3.3 पाउंड था। यह नीलामी करके $ 333,000 में बेचा गया। जो कि अब तक बेचे गए किसी भी ट्रफल (मशरूम) के लिए एक विश्व रिकॉर्ड था।
  10. इटली का दावा है कि उसने समस्त यूरोप को यह सिखाया है कि खाना कैसे बनाते हैं। दुनिया को आइसक्रीम (चाइना के द्वारा), कॉफी और फ्रूट पाई से अवगत कराने वाला भी इटली ही रहा है। इसके अलावा बेल्जियम और फ्रांस के साथ साथ इटली का भी यह कहना है कि उसने पहली “फ्रेंच फ्राइज़” बनाई थी। पहली इटालियन खाना बनाने की किताब (कुक बुक) सन् 1474 में बार्टोलोमो सिसली द्वारा लिखी गई, और पूरे विश्व में इस तरह की यह पहली किताब थी।
  11. इटालियन भेड़िए को इटली का अनौपचारिक राष्ट्रीय पशु कहा जाता है। इसने रोम की स्थापना में एक बहुत बड़ी भूमिका निभाई हुई है।
italy monument
  1. सन् 1986 में जब रूम में पहला मैकडोनल्ड्स खोला गया, तो रेस्तरां के बाहर भोजन करने वालों को मुफ्त में एक प्रकार की मैक्रोनी दी गई। यह देने का मुख्य कारण उनको उनके देश की पाककला की विरासत को याद रखने के लिए किया गया था।
  2. पर्मासन चीज़ की उत्पत्ति पर्मा नामक स्थान के आसपास से हुई – जो इटली में है। इटली के लोगों ने और बहुत तरह के चीज़ बनाए। जिसमें मोज़ेरेला, गोरगोन्ज़ोला, प्रोवोलोन और रिकोटा मुख्य रूप से शामिल हैं। पिज़्ज़ा का आविष्कार कब हुआ, यह कोई नहीं जानता, लेकिन नेपल्स के लोगों ने इसे लोकप्रिय बना दिया था।
  3. रॉन्ग का विश्वविद्यालय दुनिया के सबसे पुराने विश्वविद्यालयों में से एक है।1303 A.D. में कैथोलिक चर्च के द्वारा इसकी स्थापना की गई थी। जिसे अक्सर “ला सपेंज़ा” (ज्ञान) कहा जाता है, रोम का विश्वविद्यालय, यूरोप के सबसे बड़े विश्वविद्यालयों में से एक है। इसमें पढ़ने वाले छात्रों की संख्या लगभग 150,000 से भी ज्यादा है।
  4. इटली के भीतर दो स्वतंत्र राज्य हैं – सैन मैरिनो गणराज्य (25 वर्ग मील) और वेटिकन सिटी (केवल 108.7 एकड़)।
  5. इटली का सैन मैरिनो गणराज्य दुनिया का सबसे पुराना गणतंत्र है। यहां 30,000 से भी कम संख्या में नागरिक निवास करते हैं। यह विश्व का सबसे पुराना, निरंतर चलने वाले संविधानिक राज्य है, इसके नागरिकों को “साममायरियां” कहा जाता है।
  6. “पिनोचियो” (पाइन नट) के लेखक, कार्लो कोलोडी इटली के रहने वाले थे। इनका जन्म सन् 1826 में हुआ था और मृत्यु सन् 1890 में।
  7. यूरोप के अन्य देशों की तुलना में इटली सबसे ज्यादा भूकंप झेलता है। अनुमान है कि सन् 1693 में सिसिली में आए भूकंप की वजह से 100,000 से भी अधिक लोगों की मृत्यु की हो गई थी। अब तक का सबसे भयानक भूकंप सन् 1980 में इटली के नेपल्स में आया था, जिसमें 3,000 से भी ज्यादा लोग मारे गए।
  8. यूरोप के किसी अन्य देश में इतने ज्वालामुखी नहीं होंगे, जितने अकेले इटली में हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि इटली प्रायद्वीप फॉल्ट लाइन पर स्थित है। तीन बड़े ज्वालामुखी (एटना, स्ट्रोंमबोली और वेसुवियस) पिछले 100 सालों में फट चुके हैं।
  9. वर्ष 2000 ईसा पूर्व तक, इटालियन जनजातियों (ओस्कन्स, यूम्ब्रियन, लैटिन्स) ने खुद को इटली में स्थापित कर लिया था। उनके बाद 800 ईसा पूर्व इट्रस्केन्स और यूनानी लोग आए, जिन्होंने दक्षिण इटली में (वर्तमान अपुलिया) में मैग्ना ग्रेका के नाम से कॉलोनियों की स्थापना की। रोम की स्थापना 753 ईसा पूर्व हुई थी और इसके तुरंत बाद रोमन ने प्रायद्वीप पर विजय प्राप्त करना शुरू कर दिया।
  10. 117 A.D. में रोमन साम्राज्य पश्चिम में पुर्तगाल से लेकर पूर्व के सीरिया तक और उत्तर में ब्रिटेन से लेकर भूमध्य सागर तक उत्तरी अफ्रीकी रेगिस्तान तक फैला हुआ था। यह 2.5 मिलियन मील (जो कि अमेरिका का 2/3 भाग है) क्षेत्रफल तक फैला हुआ था। इसकी आबादी 120 मिलियन थी। मध्य युग के दौरान रोम में 13,000 से अधिक निवासी नहीं थे।
  11. यूरोप के अन्य हिस्सों की तरह 14 वीं शताब्दी के मध्य में ब्लैक डेथ के कारण इटली का बहुत बड़ा भाग विपत्तियों के संयोजन के कारण बर्बाद हो चुका था। धीरे-धीरे हुए स्वास्थ्य के सुधार ने फिर से विकास को प्रोत्साहन दिया और मानवतावाद तथा पुनर्जागरण को बढ़ावा दिया।
italy boats
  1. दो इटालियन नागरिकों ने 18 वीं शताब्दी के ज्ञानोदय में योगदान दिया। सेसरे बेसेकारिया (1738-1794), जिनके अपराध और सजा पर लिखें और बताए गए निबंध से कैदियों और अपराधियों के इलाज में व्यापक सुधार हुए तथा दार्शनिक गिआम्बेटिस्टा विको (1668-1774) एक इतिहासकार, दार्शनिक तथा अलंकारशास्त्री , जिन्होंने अक्सर इतिहास के एक आधुनिक दर्शन में प्रवेश करने की सोच रखीं।
  2. सन् 1861 से 1985 के बीच 26 मिलियन लोगों ने इटली (जिनमें से ज्यादातर भीड़भाड़ वाले दक्षिणी इलाके से थे) छोड़ दिया था, क्योंकि वे एक बेहतर जिंदगी की तलाश करना चाहते थे। केवल चार में से एक ही नागरिक उन छोड़े हुए लोगों में से वापस दोबारा इटली आया लौट कर आया।
  3. यूरोप की सबसे ऊंची चोटी इटली में है। “मोंटे बियान्को” (व्हाइट माउंटेन) 15,771 फीट ऊंचा और आल्प्स का हिस्सा है।
  4. हालांकि इटली की अर्थव्यवस्था बीसवीं शताब्दी के पहले भाग के दौरान शेष यूरोप से पीछे रह गई थी। परन्तु वर्तमान में यह दुनिया की सातवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।
  5. इटली में रोमन भाषा मूलतः वल्गर लैटिन से ली गई है, जो कि अंतिम वर्षों के दौरान, रोमन साम्राज्य में रहने वाले लोगों द्वारा बोली जाती थी। इटली में किसी भी अन्य रोमन भाषा के बजाय लैटिन भाषा के अधिक शब्द हैं और इसकी व्याकरण प्रणाली भी लैटिन के समान ही बनी हुई है। लैटिन अभी भी रोम के वेटिकन सिटी की अधिकारिक भाषा है।
  6. इटली की राजधानी रोम (जिसे अनंत शहर के रूप में भी जाना जाता है) है और यह करीब 3,000 वर्ष पुरानी है। सन् 1871 में इसे इटली की राजधानी बनाया गया और तब से यह सेंट पीटर, सिस्टिन चैपल, कोलिजियम और प्रसिद्ध देवी फाउंटेन के डोम का घर है।
  7. इटली में प्रतिवर्ष 50 मिलियन पर्यटक हर साल घूमने के लिए आते हैं। पर्यटन से इटली की अर्थव्यवस्था को काफी मजबूती मिलती है। यह इटली की कुल राष्ट्रीय आय का 63% प्रदान करती है।
  8. रात के खाने से पहले पसागेटियाटा (शाम का टहलना) इटली के स्थानीय लोगों की आम गतिविधि है, इस दौरान यहां के नागरिक सड़कों पर घूमते और टहलते दिखाई देते हैं।
  9. 1930 से 40 के दशक में इटालियन फासीवादी बेनिटो मुसोलिनी (1833-1945) ने इटली के शब्दों से अंग्रेजी के शब्दों को हटाने की कोशिश की। जिसके परिणामस्वरूप फुटबॉल में “गोल” को “मेटा” कहा जाने लगा, वहीं “डोनाल्ड डक” “पेपररीनो” नाम में बदल गया और “मिकी माउस” को “टोपोलिनो” बना दिया गया, जबकि “गूफी” का नाम बदलकर “पिप्पो” कर दिया गया। चूंकि यह प्रतिबंध स्थाई नहीं था, इसलिए इटालियन नाम सामान्य ही रहे।
  10. 1560 में शुरू हुई कॉसिमो एल डे मेडिसी, उफीजी गैलरी, फ्लोरेंस में बनी, दुनिया के सबसे पुराने संग्रहालय में से एक है। इसमें माइकल एंजेलो, बॉटलिकेली, दा विंची के प्रसिद्ध काम शामिल हैं।
  11. लगभग 85% इटालियन रोमन कैथोलिक हैं, साथ ही प्रोटेस्टेंट, यहूदियों और मुस्लिम कम्युनिटी के साथ अल्पसंख्यक समुदाय भी हैं।
italy beauty
  1. फुटबॉल इटली का सबसे लोकप्रिय खेल है और मशहूर सैन सिरो स्टेडियम 85,000 लोगों के बैठाने की जगह रखता हुआ मिलान में स्थित है। इटली ने अब तक चार बार (1934, 1938, 1982, 2006) में विश्वकप जीतकर अपने देश का नाम रोशन किया है। साथ ही इटली की टीम केवल ब्राजील के बाद दूसरे स्थान पर आती हैं।
  2. फुटबॉल को अंग्रेजों द्वारा 1800 के अंत में इटली में पेश किया गया। परंतु 1930 तक जब मुसोलिनी का शासन लागू हुआ उस समय के बाद यह खेल इटली को अंतरराष्ट्रीय स्तर तक लेकर गया और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इटली की पहचान इस खेल के माध्यम से भी हुई।
  3. इटली में फुटबॉल प्रशंसकों को “टिफोसी” कहा जाता है, जिसका अर्थ है “टायफस के वाहक”। इटालियन फुटबॉल के प्रशंसक अपने उपद्रवी व्यवहार और संयम की कमी के लिए जाने जाते हैं।
  4. 1454 में इटली में एक वास्तविक मानव शतरंज खेल का संगठन किया गया। एक खूनी द्वंद लड़ने के बजाय शतरंज के खेल का विजेता एक सुंदर लड़की का हाथ जीता था। घटना का स्मरण के लिए प्रत्येक सितंबर को सम-विषम वर्षों के अनुसार शहर का मुख्य “पियाज़ा” जीवन-आकार शतरंज बोर्ड के रूप में बदल दिया जाता था।
  5. इटली ने अब तक तीन बार ओलंपिक खेलों की मेजबानी की हुई है। 1956 के शीतकालीन खेलों का आयोजन कोरटिना डीम्पेज़ो, ज़ुएल और डोलोमाइट एल्प्स में हुआ था। 1960 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक रोम में आयोजित किए गए और ट्यूरिन ने 2006 के शीतकालीन ओलंपिक की मेजबानी की।
  6. दुनिया की सबसे लंबी भूमि सुरंग लॉट्सबर्ग बेस टनल है, जो स्विट्जरलैंड और इटली के बीच 22 मील की रेलवे लिंक है।
  7. फ्रांसीसी ध्वज से प्रभावित इटली के ध्वज को कई सौ वर्ष लगे पूरी तरह से विकसित होने में। ध्वज को हरे रंग, सफेद रंग और लाल रंग, 3 समान वर्गों में विभाजित किया गया है। यह आशा, विश्वास और दान का प्रतिनिधित्व करते हैं। एक और व्याख्या यह है कि हरा रंग इतालवी परिदृश्य का प्रतिनिधित्व करता है। सफेद रंग बर्फ से ढकी आल्प्स का प्रतिनिधित्व करता है और लाल रंग, रक्तपात का प्रतिनिधित्व करता है, जो इटली की स्वतंत्रता के दौरान हुआ था।
  8. इटली ई.यू. (यूरोपियन यूनियन) के संस्थापकों में से एक था और वह दुनिया के सबसे शक्तिशाली देशों में से आठ के लिए एक मंच, ग्रुप ऑफ़ 8 (जी 8) का सदस्य है।
  9. सर्दीनियन द्वीप अपनी “चुड़ैलों” के लिए मशहूर है जो स्थानीय लोगों के स्वास्थ्य के लिए औषधि बनातीं हैं। ये चुड़ैलें आमतौर पर महिलाएं होती हैं और वे एक गुप्त भाषा का उपयोग करके एक दूसरे से बातचीत करती हैं। परंतु वह इस भाषा को अपनी बेटियों को विरासत के तौर पर सिखाती जातीं हैं।
  10. गैलीलियो गैलीली (1564-1642) इटली में जन्मे वैज्ञानिक थे। जब उन्होंने यह तर्क दिया कि पृथ्वी, सूर्य के चारों ओर घूमती है, तो कैथोलिक चर्च ने गैलीलियो को अपने ही घर में कैद कर दिया। उनकी मृत्यु के उपरांत इस तथ्य के सच हो जाने पर चर्च ने 1992 में एक औपचारिक माफी जारी की।
  11. इतालवी नागरिक जिनकी उम्र कम से कम 18 वर्ष की है, वे संसद में निचले सदन, चैंबर ऑफ डेप्युटी के लिए वोट कर सकते हैं। वह नागरिक जिनकी उम्र कम से कम 25 वर्ष की हैं, वे उच्च सदन, सीनेट के 315 सदस्यों के लिए अपना मतदान कर सकते हैं।
italy landscape
  1. इटली की लंबी तटरेखा और विकसित अर्थव्यवस्था दक्षिण-पूर्वी यूरोप और अफ्रीका के कई अवैध प्रवासियों को अपनी तरफ आकर्षित करती है । इसके अतिरिक्त, लैटिन अमेरिकी कोकीन, दक्षिणी-पश्चिम एशियाई हीरोइन, और अन्य प्रकार के संगठित अपराध – सभी को इटली में एक सक्रिय बाजार मिलता है।
  2. “तीन फव्वारे” के नाम से जाने जाने वाले इटली के सबसे प्रसिद्ध इतालवी लेखक डांटे एलिघिएरी (1265-1321), फ्रांसेस्को पेट्रार्क (1304-1374) और जियोवन्नी बोकाशियो (1313-1375) रहे हैं। डांटे की “डिवाइन कॉमेडी” का इटली के साहित्य पर जबरदस्त प्रभाव था, उन्हें इटली भाषा का पिता माना जाता है।
  3. इटली में जन्म दर पश्चिमी दुनिया में सबसे कम है।यहां दोनों राजनीतिक तथा चर्च के नेताओं ने इसे लेकर पहले ही अपने चिंतन को व्यक्त किया हुआ है और जिस भी जोड़े के पास एक से अधिक संतान होती है वह उन्हें पुरस्कार की पेशकश करते हैं।
  4. इटली में क्रिसमस के दौरान साल की सबसे बड़ी छुट्टी होती है। बहुत से लोग क्रिसमस की पूर्व संध्या को एक विशाल दावत का आयोजन करते हैं।जिसमें अधिकता समुद्री भोजन परोसा जाता है। क्रिसमस का मौसम एपिफेनी 6 जनवरी तक रहता है, यह वह तारीख है जब “थ्री वाइज मैन” जिनके बारे में कहा जाता है कि वे यीशु के चरवाहे के पास पहुंचे थे।
  5. इटली फैशन उद्योग में दुनिया में सबसे आगे हैं 1950 के दशक में Nino, Cerruti और Valentino जैसे इतालवी डिजाइनरों ने स्टाइलिश फैशन बनाने में दुनिया का नेतृत्व किया। इसके अतिरिक्त अरमानी, वर्साचे, गुच्ची और प्रादा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त है। इटली को अच्छे स्पोर्ट्स कारों के लिए भी जाना जाता है, जैसे फेरारी और लैंबोर्गिनी।
  6. पीसा का “लीनिंग टॉवर” सन् 1173 में बनाया गया था, परंतु यह जल्द ही खराब हो गया था, जिसकी वजह शायद टावर की खराब नींव थीं। द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान, नाजी ने इसे एक वॉच टॉवर के रूप में इस्तेमाल किया था। सन् 2008 में पुनर्निर्माण के अकथ प्रयासों के बाद, इंजीनियरों ने घोषित किया कि यह टॉवर कम से कम 200 वर्षों तक स्थिर रहेगा।
  7. दुनिया का पहला ओपेरा इटली में सोलहवीं शताब्दी के अंत में बनाया गया था। ओपेरा 19वीं शताब्दी में लोकप्रियता की ऊंचाई पर पहुंच चुका था, जब गियोकोचिनो रोसिनी (1792-1868), जियाकोमो प्यूकिनी (1858-1924), और ग्यूसेप वर्डी (1813-1901) के काम बेहद लोकप्रिय हुए थे। स्वर्गीय टेनर लुसियानो पवारोट्टी (1935-2007) एक राष्ट्रीय हस्ती माना जाता है, और क्लाउडियो मोंटेवेर्डी (सी. 1567-1643) को आधुनिक ओपेरा का जनक माना जाता है।
  8. कई इतालवी बच्चे जो शादीशुदा नहीं है, 30 वर्ष की आयु होने तक भी वह घर पर रहते हैं, भले ही उनके पास नौकरी हो। इतालवी परिवार, इतालवी समाज का केंद्र है।
  9. अरबों ने 13 वीं शताब्दी में सूखे पास्ता को इटली में लाया (हालांकि ताजा पास्ता तब से पहले बनाया गया था)। यह आमतौर पर शहद और चीनी के साथ खाया जाता था। 17 वीं और 18 वीं शताब्दी तक टमाटर सॉस इसमें नहीं डाला जाता था। पास्ता खाने का पुराना अंदाज “अंगुलियों से, हाथ ऊंचा और सिर पीछे झुका हुआ” करता था पास्ता पारंपरिक रूप से घर की मां के द्वारा बनाया जाता था ,ये अपनी बेटियों को इसे बनाने की अनमोल तकनीक देतीं थीं। वर्तमान में, इटली में 500 से अधिक विभिन्न प्रकार के पास्ता खाए जाते हैं।
  10. संगीत की भाषा इतालवी है। शब्द “स्केल” स्कला से आता है, जिसका अर्थ है “चरण”।
  11. फ्लोरेंस, इटली में गैलीलियो के दांत, अंगूठा और अंगुली को प्रदर्शित करतें हैं। सन् 1642 में उनकी मृत्यु के 95 साल बाद, एक दफन समारोह के दौरान उन्हें, गैलीलियो की लाश से काट कर अलग कर दिया गया था।

Leave a Reply