जानिये पढ़ाई में ‘टॉप’ करने वाले स्टूडेंट्स की ये 40 आदतें

0
24
student-success

क्या आपने भी कभी ऐसा महसूस किया है कि कुछ छात्र दूसरे छात्रों की तुलना में अधिक सफल होते हैं, लेकिन ऐसा क्यों ? इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं परंतु जो सबसे ज्यादा संभावित कारण है वह यह कि उनके द्वारा अपनाई गई कुछ ऐसी आदत है जो उन्हें दूसरों से अलग और सफल बनातीं हैं। इसलिए हमने यहां पर छात्रों के लिए हर दिन अभ्यास करने योग्य 40 ऐसी अच्छी आदतों की एक सूची बनाई है जिन्हें आप अपने अंदर अपनाकर स्वयं उन्हें विकसित कर सकतें हैं तथा आप स्वयं को एक खुश, स्वस्थ और अधिक सफल छात्र बना पाएंगे।

Table Of Contents

कम से कम 5 उन महत्वपूर्ण कार्यों को लिखना शुरू करें, जो आपको दिन में पूरे करने हैं

यह लिखे हुए कार्य आपको अपने अंदर एक अच्छी आदत को विकसित करने में मदद करेंगे। ये आपको प्रोत्साहित करेंगे और मार्गदर्शन देंगे। एक लिखित सूची जब सामने होती है, तो उसे अनदेखा करना मुश्किल हो जाता है। यदि आप रोज अपने लिए तीन से पांच महत्वपूर्ण कार्यों को लिखेंगे, तो आप उन पर अपना ध्यान केंद्रित कर सकेंगे और इससे पहले कि वह आपके लिए अत्यधिक जरूरी हो जाएं, आप उन्हें नियमित अवधि से पहले ही पूर्ण करने की आदत भी बना पाएंगे। यदि आप एक होशियार विद्यार्थी बनना चाहते हैं और साथ ही अपनी उत्पादकता को भी बढ़ाना चाहते हैं, तो इस आदत को आप अभी से अपने अंदर पैदा करने की कोशिश करना शुरू कर दीजिए।

अपने कैलेंडर में महत्वपूर्ण तारीख और आयोजनों को समय-समय पर अपडेट करते रहे

यदि आप अपने कैलेंडर को समय-समय पर विशेष तारीखों और आयोजनों के अनुसार अपडेट करते रहेंगे, तो यह भविष्य की योजना बनाते समय यह आपके लिए बहुत मददगार साबित होगा। आप चाहे तो किसी भौतिक कैलेंडर या ऑनलाइन जैसे कि गूगल कैलेंडर का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें आप अपनी परीक्षा की तारीख, प्रोजेक्ट को प्रस्तुत करने की समय सीमा इत्यादि का रिकॉर्ड रख सकते हैं। इस तरह आप अपने हर कार्य को उचित समय की अवधि में पूरा कर सकेंगे। एक कैलेंडर समय पर, दिन के बाद, भविष्य की योजना बनाते समय भी रहने का एक शानदार तरीका है।

उस समय जब आप सबसे ज्यादा स्फूर्तिवान महसूस करते हैं, सबसे चुनौतीपूर्ण कार्य करें

जिस समय आपका मन और शरीर सबसे ज्यादा तरोताजा महसूस करें, आपको अपने दिन का सबसे चुनौतीपूर्ण कार्य उसी समय करना चाहिए। ऐसा करने से यह सुनिश्चित होगा कि आप उस चुनौतीपूर्ण कार्य को कुशलता पूर्वक पूरा करने के लिए अपनी समस्त ऊर्जा का उपयोग कर सकेंगें। साथ ही ऐसा करने से आप दिन के बाकी बचे हुए समय में अपने अन्य कार्यों को भी अच्छे से निपटा सकेंगे। हो, तो अपने सबसे चुनौतीपूर्ण कार्य को संभालें।

उस एक बात को लिखें जिसके लिए आप बहुत आभारी महसूस करते हैं

क्या आपको कभी ऐसा लगा है कि आप अपने किसी मित्र के प्रति आभारी हैं अथवा आप अपने परिवार या अपने किसी शिक्षक के प्रति स्वयं को बहुत आभारी महसूस करते हैं। यदि हां! तो, अपने दिन के समय से कुछ मिनटों का समय निकालकर किसी डायरी में यह जरूर लिखें कि आप अपने जीवन में किस व्यक्ति के प्रति आभार महसूस करते हैं। यह एक ऐसी आदत है जो आपको दीर्घकालिक सफलता और खुशी देने में आपकी मदद करेगी। यकीन मानिए बहुत से ऐसे लोग जिन्होंने जीवन में बहुत सफलता अर्जित की है और उन्होंने उन लोगों के प्रति अपना आभार जरूर व्यक्त किया है जिन्हें वह दिल से मानते हैं।

अपनी दिनचर्या का 5 मिनट का समय गहरी सांस लेने पर केंद्रित करें

तनाव के कारण ना सिर्फ आपके स्वभाव अपितु आपके अध्ययन पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इस तनाव को दूर करने का हमारे पास एक त्वरित समाधान है। “गहरी सांस” लेना । “गहरी सांस” लेने को वैज्ञानिक रूप से तनाव कम करने के लिए प्रभावी माना गया है। यहां तक कि कुछ अध्ययनों से यह भी पता चलता है कि गहरी सांस लेने से व्यक्ति की इच्छा शक्ति और याददाश्त भी बढ़ती है ।इसी कारण आप भी अपने दिन के 5 मिनट निकालकर गहरी सांस लें। मेरा ऐसा मानना है कि यदि आप अपनी परीक्षा के पहले खुद के को तनाव से दूर करना चाहते हैं तो आप इस गहरी सांस लेने के व्यायाम को अपनी दिनचर्या में जरूर शामिल करें।

अपने पसंदीदा प्रेरणादायक उद्धरण (इंस्पिरेशनल कोटेशन) जरूर पढ़ें

प्रेरणादायक उद्धरण आपको अध्ययन करने के लिए प्रेरणा देते हैं। खास करके तब, जब आप अपनी किसी पसंदीदा प्रेरणादायक उद्धरण को पढ़ रहे हों। जिस प्रकार मेरी पसंदीदा उद्धरण है

  1. “कभी भी चीज के आसान होने की इच्छा मत करो। खुद को और अच्छा बनाने की इच्छा करो”
  2. “असफलता मुझे तब तक नहीं मिल सकती जब तक मेरी सफलता पाने की इच्छा मजबूत है”
  3. “निंदा से घबराकर अपने “लक्ष्य” को ना छोड़े क्योंकि ‘लक्ष्य’ मिलते ही “निंदा” करने वालों की राय बदल जाती है”
  4. “अगर तुम सूरज की तरह चमकना चाहते हो तो सूरज की तरह जलना सीखो”
  5. “मेहनत इतनी खामोशी से करो की कामयाबी शोर मचा दे”

अपने आपको डेडलाइन ज़रूर दें – किसी भी कार्य को करने के लिए एक सीमा निर्धारित करनी ज़रूरी है

वैज्ञानिक शोध कार्यों से पता चलता है कि अगर आप डेडलाइन के अन्दर रहकर किसी कार्य को करने की चेष्टा करते हैं तो उस कार्य के अधिक बेहतर रूप से होने की सम्भावना बढ़ जाती है। यदि आप के पास किसी कार्य के लिए अधिक समय हो और कम समय हो तो देखा गया है कि गुणवत्ता प्रभावित नहीं होती। बल्कि ऐसा पाया गया है कि जब दिमाग एक डेडलाइन के प्रभाव में काम करता है तो उसका क्रियात्मकता बढ़ जाती है। बड़े बड़े रिसर्च साइंटिस्ट, नॉवेलिस्ट सभी डेडलाइन में कार्य करने की सलाह देते हैं। वरना क्या होता है कि काम जितना भी छोटा हो, डेडलाइन के अभाव में या तो शुरू नहीं होता या पूरा नहीं होता।

अपने द्वारा बनाए गए नोट्स और कार्यश्रंखला को भलीभांति प्रकार से व्यवस्थित करें

चीजों को व्यवस्थित करना स्कूल के अंदर सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत ही आवश्यक होता है। इसलिए आप प्रतिदिन अपना 5 से लेकर 10 मिनट का समय चीजों को व्यवस्थित करने के लिए निर्धारित करें। इस प्रक्रिया के माध्यम से आप अपने द्वारा बनाए जाने वाले नोट्स और कार्य श्रृंखला को भी सही प्रकार से व्यवस्थित करें। ऐसे में जब भी आपके लिए ऐसा समय आएगा, जैसे कि आपको आने वाले किसी भी इम्तिहान के लिए तैयारी करनी होगी, तो आप अपने आप को एक व्यवस्थित रूप से सुलझा हुआ और तैयार महसूस करेंगे। ऐसे में आपको अपने इम्तिहान की तैयारी के लिए, आवश्यक संसाधनों की तलाश में इधर उधर भटकने में अपना समय भी व्यर्थ नहीं करना होगा। जिसके माध्यम से आप अपनी परीक्षाओं में अधिक संतुलित रूप से अपने आप को प्रदर्शित कर पाने में सफल होंगे।

students with books

रोजमर्रा की पढ़ाई के बाद आप अपनी पढ़ाई करने वाली मेज को पूर्ण रूप से साफ करें

जब भी आपका दिन पूर्ण होने वाला हो तो आपको अपनी पढ़ाई करने की मेज को सही प्रकार से साफ करना चाहिए, ताकि जब आप अगले दिन अपने दिन की शुरुआत करें तो आपको एक व्यवस्थित और साफ मेज उपलब्ध हो सकें।जिसके माध्यम से आप तरोताजा शुरुआत कर पाएंगे। यह बहुत ही जाहिर सी बात है कि आप अपने अगले दिन की शुरुआत एक इस प्रकार कि मेज से नहीं करना चाहेंगे जो की पूरी तरह अस्त-व्यस्त हो क्योंकि ऐसा होने पर आप अपने आप को बहुत ही हतोत्साहित महसूस करेंगे।

एक ऐसा कार्य जरूर करें जिसमें आप दयालुता महसूस कर सकें

अपनी आदत बनाने की कोशिश करें, कि आप दिन में एक ऐसा कार्य जरूर करेंगे, जिससे आपके व्यक्तित्व की दयालुता का प्रदर्शन होगा। ऐसा करने से आप अपने जीवन में स्वयं को अच्छा महसूस करेंगे। यह कार्य किसी भी प्रकार का हो सकता है, जैसे किसी की सच्ची तारीफ करना, किसी भूखे जानवर को खाना खिलाना, किसी गरीब की मदद करना, किसी को सड़क पार करवाना, किसी को हेल्लो करना, या फिर बस में किसी के लिए अपनी सीट छोड़ देना इत्यादि।

दिन में 15 मिनट के लिए सूर्य की रोशनी में जरूर निकले

सूर्य की रोशनी में निकलने के बहुत सारे लाभ होते हैं, जैसे कि यह नींद की गुणवत्ता को बढ़ाता है, हड्डियां मजबूत करता है, मस्तिष्क के कार्य करने की क्षमता में सुधार लाता है, और कैंसर जैसी भयानक रोगों के खतरे को कम करता है। हम आपसे यह नहीं कहते कि आप अपना पूरा दिन बाहर निकलकर सूर्य की रोशनी में बिताएं। परंतु दिन के 15 मिनट को प्रकृति के करीब सूर्य की रोशनी में जरूर बिताने की कोशिश करें।

कोई ऐसा कार्य जरूर करें जिससे आपको थोड़ा डर लगता हो (पर यह खतरनाक न हो)

यह सुनने में थोड़ा अजीब लग सकता है, परंतु अपने अंदर आत्मविश्वास और साहस को पैदा करने का यह सबसे अच्छा तरीका माना गया है। जी हां, अपने डर से सामना करना। आप कोशिश करिए कि आप अपने डर से सामना कर सकें । इसकी शुरुआत आप किसी भी छोटे कार्य से कर सकते हैं। आप उन कार्यों की सूची बनाएं, जिन से आप को डर लगता है और फिर छोटे-छोटे प्रयास करके यह कोशिश करें कि आप एक-एक करके अपने सभी प्रकार के डर पर काबू पा सकें। इस बात को हमेशा याद रखें कि कुछ भी अचानक नहीं बदला जा सकता, एक सही आदत का निर्माण समय के साथ धीरे धीरे नियमित तौर पर करने से होता है।

ऐसे लोगों के साथ अपना समय बताएं जिनके जैसा आप बनना चाहते हैं

एक छात्र के रूप में आप पूरे दिन में कई लोगों के संपर्क में आते हैं, जो अलग-अलग सोच विचार रखते हैं। कोशिश करें कि आप अपना समय ऐसे लोगों के साथ बिताएं जिनके जैसा आप बनना चाहते हैं। यह लोग आपको जीवन में बेहतर बनने के लिए उचित सलाह दें सकते हैं और आपके सोचने के तरीकों को भी बदलने में आपकी सहायता करते हैं।

जागने के 30 मिनट के अंदर ही अपना नाश्ता जरूर कर लें

कई बार जल्दबाजी की वजह से आप अपना नाश्ता नहीं करते और उसे छोड़ देते हैं। परंतु यह बहुत बड़ी गलती है। नाश्ते को दिन का सबसे महत्वपूर्ण भोजन माना गया है और यह अति आवश्यक है कि आप सुबह उठने के 30 मिनट के अंदर ही अपना नाश्ता जरूर कर लें । ऐसा करने से आपको पूरे दिन के कार्य करने के लिए ऊर्जा प्राप्त होती है और आप पूरे दिन खुद को अधिक स्फूर्तिवान पाते हैं।

प्रतिदिन कम से कम 8 गिलास पानी पिएं

हम सभी जानते हैं कि पानी स्वास्थ्य के लिए कितना आवश्यक होता है। पानी पीने के जबरदस्त स्वास्थ्य लाभ होते हैं। हममें से हर किसी को दिन में 8 गिलास पानी पीना चाहिए। लेकिन वास्तव में हमें से बहुत कम लोग ऐसे होते हैं, जो दिन में 8 गिलास पानी पीते हैं । आप कोशिश करें कि आप दिन में 8 गिलास पानी पीने की आदत को अपने अंदर पैदा कर सकें। यह आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत अधिक लाभदायक हैं।

प्रतिदिन 15 मिनट का समय अपने व्यायाम के लिए जरूर निकालें

विद्यार्थी जीवन में यह आवश्यक नहीं कि आपके पास रोज एक या 2 घंटे का समय हो, जिसमें आप जिम जाकर व्यायाम करें। परंतु व्यायाम करना हर उम्र के लोगों के लिए लाभदायक होता है। इसीलिए आप अपने दिन में 15 मिनट का समय अपने व्यायाम करने के लिए जरूर निकालें। व्यायाम के तौर पर आप चाहे तो ब्रिस्क वॉक (तेज गति से चलना) या कुछ कॉलिसिंथिक्स कर सकते हैं । यह आपके लिए करना सरल होगा। बैडमिंटन जैसे खेल भी खेल सकते हैं जिनसे आपके शरीर में लचीलापन बढेगा और मस्तिष्क को जल्दी जल्दी प्रतिक्रिया करने की आदत पड़ेगी जो पढ़ाई में भी फायदेमंद होगी। ऐसा करने से आप कुछ ही दिनों में पाएंगे कि आप अधिक ऊर्जावान महसूस करने लगे हैं, साथ ही आप बीमार भी कम पड़ने लगेंगे।

student homework

कोशिश करें कि हर रात एक ही समय बिस्तर में सोने जाएं और सुबह एक ही समय उठने की आदत बनाएं

यदि आप रोज रात एक निश्चित समय पर बिस्तर में सोने के लिए जाएंगे तो आपके लिए अगली सुबह उठना आसान हो जाएगा। विद्यार्थी जीवन में सुबह जल्दी उठने की कोशिश करनी चाहिए, जिसके लिए रात को एक निश्चित समय पर सोने की कोशिश करें। निश्चित समय पर सोने से आप सुबह भी निश्चित समय उठ पाएंगे । परंतु फिर भी अपने आप को 30 मिनट का समय दें, जिसमें अगर थोड़ी बहुत देरी हो जाए तो आप अपनी दिनचर्या का पालन सही प्रकार से कर सकें।

प्रतिदिन 8 घंटे की नींद जरूर लें

दिन में सही प्रकार से कार्य करने के लिए अधिकांश लोगों को हर रात कम से कम 8 घंटे की नींद की आवश्यकता होती है। इसलिए आप यह सुनिश्चित करें कि आपके दिन के कार्य करने का समय इस प्रकार निर्धारित हो कि आप रात को 8 घंटे जरूर नींद ले सकें। 8 घंटे की नींद की आवश्यकता मस्तिष्क को पूर्ण आराम देने के लिए आवश्यक होती है इससे अगले दिन आप तरोताजा महसूस करेंगे। यदि आपके लिए इकट्ठे आठ घंटे सोना मुमकिन न हो तो आप रात में 6 घंटे और दिन में 2 घंटे सोने का प्रयास भी कर सकते हैं।

प्रतिदिन निश्चित समय पर सोने की दिनचर्या का पालन करें

यदि आप अपनी दिनचर्या में सोने का समय नहीं बनाएंगे तो आपके लिए अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित करना बहुत मुश्किल हो जाएगा और आप पूरे दिन खुद को सोता हुआ और आलस्य से भरा हुआ महसूस करेंगे। अतः ऐसी दिनचर्या बनाएं जिसमें आपको रात में 8 घंटे सोने के लिए मिल सकें। यदि आपको सोने में कोई दिक्कत महसूस होती है तो निम्नलिखित में से किसी का भी आप पालन कर सकते हैं

• शॉवर लें
• रोशनी मंद करें
• कुछ रिलैक्सिंग म्यूजिक सुनें
• अपनी पसंदीदा पुस्तक के कुछ पृष्ठ पढ़ें
• कुछ मिनट के लिए डायरी भरें

अपने फोन पर महत्वपूर्ण कार्यों के लिए रिमाइंडर जरूर लगाएं

‘टू-डू लिस्ट’ जैसी रिमाइंडर एप आपकी बहुत सहायता कर सकती हैं, विशेषकर उन कार्यों को याद दिलाने के लिए जो आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। आप अपने स्मार्टफोन पर ऐसे ऐप को डाउनलोड करके इसका लाभ उठा सकते हैं। इसके द्वारा आप उन चीजों को याद करने के लिए एक सूची बना सकते हैं जो आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं और उन पर रिमाइंडर लगा सकते हैं, जैसे कि किसी से मिलना, कोई पाठ पूरा करना, किसी किताब को मंगवाना, किसी असाइनमेंट को पूरा करके देना इत्यादि।

किसी बुरी आदत को छोड़ने का प्रयास करें और उस आदत को छोड़ने पर किसी इनाम और ना छोड़ पाने पर किसी सजा को निर्धारित करें

यह बात सच है कि बुरी आदतों को छोड़ना बहुत मुश्किल होता है। परंतु यदि प्रयास किया जाए तो बुरी आदतें छोड़ी जा सकते हैं। यदि आप भी अपनी किसी बुरी आदत को छोड़ना चाहते हैं, तो इस तरीके का इस्तेमाल कर सकते हैं । आप स्वयं को बुरी आदत छोड़ने के लिए प्रोत्साहित करने हेतु किसी इनाम और ना कर पाने पर किसी सजा का निर्धारण कर सकते हैं। जब भी आप उस बुरी आदत को छोड़ने के समय में सफल हों तो स्वयं को पुरस्कृत करना ना भूलें लेकिन यदि आप पुनः इस बुरी आदत को अपनी दिनचर्या में शामिल करने लगे तो स्वयं को सजा भी जरूर दें। ऐसा करने से आप स्वयं पर नियंत्रण करना सीख लेंगे और धीरे-धीरे अपनी बुरी आदत से भी छुटकारा पा लेंगे।

यदि आपको स्कूल में पढ़ाया गया कुछ समझ में ना आए तो उसी दिन अपने संदेह को दूर करें

यह बहुत सामान्य सी की बात है कि कई बार अध्यापक का पढ़ाया हुआ एक बार में समझ में नहीं आता। ऐसा कक्षा के सबसे अच्छे छात्रों के साथ भी होता है । जरूरी यह नहीं कि आपको समझ में क्यों नहीं आया, परंतु यह सुनिश्चित करना आवश्यक है कि यदि आपको शिक्षक के द्वारा बताई गई किसी बात में कोई संदेह है तो आप उसे शिक्षक के सामने प्रकट करके उसी समय स्पष्ट कर लें। कभी भी शिक्षक से कुछ पूछने में संकोच ना करें। यह बात याद रखें कि आप विद्यार्थी हैं और आप यहां शिक्षा सीखने आए हैं। यदि कुछ ऐसा हो कि आप शिक्षक से ना पूछ पाएं तो किसी स्टूडेंट से ज़रूर पूछें और संदेह समाप्त करें।

अपनी आने वाली परीक्षा के लिए पहले से एक अध्ययन की योजना बनाकर रखें

स्वयं के ध्यान को केंद्रित करने के लिए किसी को भी एक सही योजना की आवश्यकता जरूर पड़ती है। विद्यार्थी जीवन में परीक्षाएं आती ही रहती हैं। इसलिए यह जरूरी है कि आप अपने आगामी परीक्षा में अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को करने के लिए, पहले से ही अपने अध्ययन की एक योजना बनाकर रख लें। इसमें नजदीकी और दूरगामी माइलस्टोन निर्धारित करें। अपनी योजना को स्पष्ट और विशिष्ट समय सीमा के साथ जोड़ कर रखें। यह एक ऐसी अध्ययन टिप है, जिसे आपको तुरंत अपने जीवन में अपनाना चाहिए।

कहीं भी पहुंचने के लिए अपने पास 5 मिनट अतिरिक्त जरूर रखें

समय का पालन करना विद्यार्थी जीवन में ही नहीं अपितु सामान्य जीवन में भी अत्यंत आवश्यक होता है। जो स्वयं के समय का मूल्य नहीं करता वह कभी भी जीवन में सफलता प्राप्त नहीं कर पाता। कहीं भी देर से पहुंचना अच्छा नहीं माना जाता, इसलिए अपने अंदर एक आदत बनाएं कि आप कहीं भी पहुंचने के लिए 5 मिनट अतिरिक्त लेकर जरूर चलेंगे। इससे आप समय पर पहुंच भी सकेंगे और आप तनाव से भी बचेंगे।साथ ही ऐसा समय से पहुंचने पर सामने वाले व्यक्ति को आपकी समय पाबंदी का गुण दिखाई देगा।

student thinking

स्कूल द्वारा मिले अपने गृह कार्य की समय से पूरा करें और टीचर के कमेंट की समीक्षा करें

विद्यार्थी जीवन में यदि आप अपने गृह कार्य को समय से पूरा नहीं करते तो शिक्षक की नजरों में आपका सम्मान गिर जाता है। शिक्षक की नजरों में और अपनी स्वयं की नजरों में अपने सम्मान को बनाएं रखने के लिए स्कूल द्वारा मिले गए गृह कार्य को समय से करने की आदत डालें। इसके लिए आप अपने फोन पर यह रिमाइंडर जरूर सेट करें कि आपको कौन सा गृह कार्य कब तक पूरा कर लेना है। इससे आपको गृह कार्य समय से पूरा करने में मदद मिलेगी। साथ ही अंतिम समय में होने वाले तनाव से भी आप बच सकेंगे। गृह कार्य पर यदि टीचर कोई टिप्पणी करें तो उसकी समीक्षा ज़रूर करें।

किसी भी कार्य को शुरू करने से पहले सभी सामग्री की सूची को चेक कर लें

किसी भी कार्य को शुरू करने से पहले, यह जरूर सुनिश्चित कर लें कि आपके पास आवश्यकता के अनुसार सब कुछ मौजूद है, जैसे, नोट्स, स्टेशनरी, पाठ्यपुस्तक, पेन, पेंसिल, इरेज़र, कैलकुलेटर। ऐसा करने से आप स्कूल से संबंधित सभी कार्यों को व्यवस्थित तरीके से कर सकेंगे और साथ ही आप अनावश्यक रुकावटों से भी स्वयं को बचा सकेंगे।

कोशिश करें कि आप याद करने के लिए नीमोनिक डिवाइस (Pnemonic device) का उपयोग करें

उदाहरण के लिए, यदि आप इलेक्ट्रोमैग्नेटिक स्पेक्ट्रम को याद करने की कोशिश कर रहे हैं, तो आप इस नीमोनिक डिवाइस का उपयोग कर सकते हैं:

• आर – रिकी (रेडियो)
• एम – माँर्टिन (माइक्रोवेव)
• आई – इज़ (इन्फ्रारेड)
• वी -वेरी (दृश्यमान)
• यू – यूनिक (पराबैंगनी) और
• एक्स – एक्सट्रीम्ली (एक्स-रे)
• जी – ग्लैमरस (गामा किरणें)

इस तरह के मेमनोनिक डिवाइस आपको तेज़ी से सीखने और किसी भी चीज को ज्यादा देर तक याद रखने में मदद करते हैं, साथ ही आपको दोहराते समय भी सहायता करते हैं।

एक समय पर एक ही कार्य में ध्यान केंद्रित करें, एक साथ अधिक कार्य करने की कोशिश ना करें

हाल ही में हुए अनुसंधानों से पता चलता है कि एक साथ अधिक कार्य करने (मल्टीटास्किंग) से स्टूडेंट की उत्पादकता नकारात्मक रूप से प्रभावित होती है। यदि आपको ऐसा लगता है कि आप एक साथ अधिक कार्य करने (मल्टीटास्किंग) से अधिक उत्पादक बन सकतें हैं, तो आप शायद अपने आप को धोखा दे रहे हैं (यदि आप बहुत इंटेलीजेंट हैं तो शायद अलग बात है)। इसलिए बेहतर होगा कि एक बार में एक कार्य को करने के लिए चुने और जब तक वह पूरा ना हो जाए तब तक दूसरे कार्य का चुनाव ना करें। अध्ययन की इस आदत को अपनाकर आप बहुत बेहतर छात्र बन सकते हैं।

किसी भी कार्य को शुरू करने से पहले हमेशा हर प्रकार की बाधा को दूर रख देना चाहिए

पढ़ाई करने के दौरान बीच में उत्पन्न होने वाली बाधाओं से बचने के लिए बहुत से आसान उपाय उपलब्ध होते हैं। अपने पढ़ाई के सत्र को शुरू करने से पहले आपको इसके बीच में आने वाली प्रत्येक प्रकार की बाधा को दूर करने की कोशिश करनी चाहिए। इसके लिए जितनी अधिक बाधाओं को आप दूर कर सकें उतना ही आपके लिए अच्छा होगा। टेलीफोन, इंटरनेट, वीडियो गेम, कई प्रकार के अनावश्यक चीज़ें जो कि आपकी पढ़ाई करने वाली मेज के ऊपर उपलब्ध होते हैं, यह सब वह बाधाएं हैं जो मुख्य रूप से पढ़ाई करने के दौरान आपका ध्यान परिवर्तित करती है। इन सब को आपको दूर कर देना चाहिए। साथ ही अपने लिए पानी की बोतल, घडी, कुछ खाने के स्नैक्स वगैरा पास में रख भी लेने चाहिए जिससे बार बार उठाना न पड़े।

जब भी आप अपने गृहकार्य को पूरा कर ले तो उसको ठीक प्रकार से जांचना आरंभ करें

कई बार आप जब भी गृहकार्य को आप पूरा करने के करीब होते हैं तो अति उत्साहित हो जाते हैं और परिणाम स्वरूप आप अपने दिमाग के अंदर सोचना आरंभ कर देते हैं कि आप इस कार्य को करने के बाद जो ब्रेक लेंगे तो उस समय में आप क्या करेंगे। जब तक कि आप अपने असाइनमेंट को भली-भांति प्रकार से जांच ना लें तब तक आपको अपने गृहकार्य के असाइनमेंट को कंप्लीट रूप में चिन्हित नहीं करना चाहिए। इस प्रकार का किया गया एक छोटा सा अतिरिक्त कार्य आपको आने वाले समय में बहुत ही अच्छे परिणाम उपलब्ध करवाएगा।

नियमित अंतराल पर कार्य से विराम लें – कम से कम हर घंटे में एक बार

लगातार काम करने के कारण हम एक ही कार्य से एक उबाऊ महसूस करने लगते हैं। अध्ययनों के माध्यम से यह जाना गया है कि कार्यों के मध्य में नियमित रूप से विराम लेने से उस कार्य के प्रति आपकी रूचि और एकाग्रता बढ़ जाती है। जिसके माध्यम से आपका उस कार्य के प्रति अधिक ध्यान केंद्रित कर पाते हैं और आप उसे अधिक प्रभावी रूप से पूरा करने में समर्थ हो पाते हैं। नियमित रूप से हर घंटे के अंतराल पर एक छोटा सा विराम लेने से आप ना केवल तरोताजा महसूस करते हैं अपितु इस प्रकार की यह क्रिया आपको काम के साथ लंबे समय तक जोड़े रखती है। जिससे आप एक लंबे समय तक उस कार्य के प्रति भली- भांति प्रकार से अपने आप को समर्पित रख पाते हैं।

हर रोज कम से कम 10 मिनट के लिए कोई पाठ्यक्रम से अलग किताब ज़रूर पढ़ें

पढ़ने के बहुत सारे लाभ होते हैं। किसी भी किताब को नियमित रूप से पढ़ना आपको कई रूपों में फायदा पहुंचाता है जैसे कि यह तनाव के स्तर को घटाकर कई प्रकार के रोग के होने की संभावना को कम करता है । इसलिए यह इस प्रकार का कार्य है जिसे आप को नियमित रूप से करना चाहिए। हम आपको इस बात के लिए प्रेरित करना चाहते हैं कि आप अपनी पढ़ने की आदत को अपने सोने के समय के साथ शामिल करें। जिसके माध्यम से आप अत्यधिक लाभ प्राप्त कर पाएंगे।

student with books

किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना कर रहे हैं तो खुद से पूछें कि इस समय ऐसा क्या है जिससे हालात बेहतर हो सकते हैं

यह एक बहुत ही मुश्किल आदत है। इस आदत को शुरू करना बहुत ही कठिन होता है क्योंकि बहुत से लोग अपने अंदर के डर के कारण परेशानियों का सामना करने से मुकर जाते हैं या फिर वह अपने बीते हुए समय को याद करने लगते हैं। इस प्रकार के कार्य ना करें बल्कि इस प्रकार के कार्य को छोड़कर एक उस विकल्प को ढूंढने का प्रयत्न करें जो आप उस समय में कर सकने में सक्षम हो और वह आपकी स्थिति को सुधार कर पाने में सक्षम हो। हो सकता है यह प्रक्रिया आपकी परेशानी को तुरंत रूप से दूर ना करें, परंतु यह आपको उस मार्ग पर पहुंचा देगी जिस मार्ग के माध्यम से आप समय के साथ आने वाली किसी भी परेशानी के ऊपर आने वाले समय में काबू पा लेंगे।

यदि आपको ज़रूरत महसूस हो तो आपको किसी की मदद प्राप्त करने की कोशिश करनी चाहिए

इस बात से यह तात्पर्य बिल्कुल भी नहीं है कि आपको हमेशा किसी भी परेशानी के उत्पन्न होने पर दूसरों की मदद के ऊपर निर्भर होना चाहिए। और ना ही यह है कि किसी भी बात का जवाब ढूंढने के लिए आप हमको दूसरों पर निर्भर करें। परंतु इस बात में भी कोई बुराई नहीं है कि जब आप किसी भी परेशानी के अंदर अपने आप को फंसा हुआ महसूस करें तो आप दूसरों से मदद पाने का प्रयास करें। बहुत से वैज्ञानिक अध्ययनों के माध्यम से यह जाना गया है कि यदि आप दूसरों से किसी प्रकार की सलाह लेते हैं तो उन लोगों के ऊपर आपका बहुत ही अच्छा प्रभाव पड़ता है।

अपने उपलब्ध पाठ्यक्रम के अलावा आपको अन्य चीजें भी सीखनी चाहिए

आपने यह बात भली-भांति प्रकार से सुनी होगी की स्कूलों के अंदर एक निश्चित पाठ्यक्रम होता है। परंतु जीवन के अंदर इस प्रकार का कोई पाठ्यक्रम नहीं होता। अपने हर रोज के समय में आप अपने स्कूल के पाठ्यक्रम के अलावा अन्य चीजों को सीखने की भूख अपने अंदर उत्पन्न करें। हम आपको इस बात के लिए उत्साहित करना चाहते हैं कि आपको नियमित रूप से किसी किताब का अध्ययन करना चाहिए या फिर किसी भी प्रकार से इंटरनेट के माध्यम से किसी नए विषय को भी आप सीख सकते हैं। आप किसी भी प्रकार एक नया हुनर भी सीख सकते हैं। आज के समय में इंटरनेट के माध्यम से बहुत ही अधिक संसाधन उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। इसलिए यदि आप किसी भी प्रकार की नई गतिविधि को सीखने में इच्छुक हैं तो आप बस केवल एक क्लिक दूर है। और ये सब आपके दूरगामी भविष्य में काम ही आएँगी। ज़रा सोचें बहुत सारे स्टूडेंट्स अपने बायोडाटा को अच्छा करने के लिए और अपनी प्रतिभा निखारने के लिए बहुत सी नई चीज़ें और गतिविधियाँ सीख ही रहे हैं।

अपने द्वारा किए जाने वाले बड़े लक्ष्यों को पूर्ण करने हेतु आपको उनको कई छोटे-छोटे भागों में परिवर्तित कर लेना चाहिए

एक बड़ा लक्ष्य पूर्ण करना (जैसे कि एक 20 पन्नों की कोई स्पेशल रिपोर्ट) इस प्रकार का एक बड़ा कार्य आपको बहुत ही भारी और करने में डरावना लग सकता है। लेकिन यदि आप इसी कार्य को 10 छोटे-छोटे भागों में परिवर्तित कर लेंगे तो यह कार्य आपको बहुत ही आसान महसूस होने लगेगा। इसी कार्य के दस अलग-अलग समूह में परिवर्तित होने के कारण आप इसे आसानी से पूरा कर पाएंगे। अपने कार्य को पूर्ण करने के लिए आपको इस प्रकार के तरीकों का उपयोग करना चाहिए। इसके माध्यम से आप अपनी कार्यों के प्रति टालमटोल करने की आदत से छुटकारा पाने में सफल हों सकेंगे।

अपना नियमित रूप से किए जाने वाला गृहकार्य एक निश्चित समय पर करने की क्षमता विकसित करें

जिस प्रकार आप अपना सोने का समय निर्धारित कर लेते हैं, उसी प्रकार आपको अपने घर पर किए जाने वाले कार्यों के लिए भी एक नियमित रूटीन के अंदर निर्धारित कर लेना चाहिए। इसके माध्यम से आप यह सुनिश्चित करने का प्रयास करें कि आप कार्यों के प्रति किसी भी प्रकार की टालमटोल नहीं करेंगे। अपने घर पर किए जाने वाले कार्यों के लिए आप अपना एक निश्चित समय और एक निश्चित स्थान निर्धारित करें। इसके माध्यम से आप अपने कार्य को किए जाने की उत्पादन क्षमता को भी सुधार पाएंगे और अपने सभी कार्य तय समय सीमा पर पूरा करने में सफल होंगे।

अपने दिन के समय में 5 मिनट निकालकर अपने गुजरे दिन के ऊपर निगाह डालें

हर रोज बीतने के साथ एक नया अनुभव उपलब्ध होता है। हर रोज कुछ समय निकालकर मुड़ कर पीछे देखे और यह जानने का प्रयास करें कि आपके इस गुजरे दिन भर में आपके साथ क्या-क्या हुआ। क्या आपने किसी भी प्रकार की कोई तरक्की की, कुछ नया सीखा, क्या आप अपने द्वारा निर्धारित किए गए लक्ष्यों की तरफ बढ़ने में सफल रहे? पूरे दिन भर के दौरान आपकी कौन सी सफलताएं थी और कौन सी विफलता थी। कैसे आपने किसी अनदेखे चैलेंज को पूरा किया, अपने पूरे दिन भर के दौरान आपने कौन-कौन से अच्छे निर्णय लिए? इस प्रकार की सामान्य आदतें और इन आदतों के द्वारा प्राप्त होने वाली अनुभूति आपके अंदर एक सामूहिक विकास को करने की मंशा को उत्पन्न करने में सहायता प्रदान करेगी और आप दिन प्रतिदिन और अधिक प्रभावी रूप से अपने द्वारा निर्धारित किए गए लक्ष्यों और कार्यों को पूरा करने में सफल होंगे।

हर रोज कम से कम 15 मिनट का समय अपने परिवार के साथ बातें करते हुए बिताएं

मेरा ऐसा मानना है कि आप यह बात खुद भी भली भांति प्रकार से जानते होंगे। परिवार हमारे जीवन काल के दौरान सबसे महत्वपूर्ण चीज होती है। इस दुनिया के अंदर परिवार सबसे अधिक महत्वपूर्ण होता है इसलिए इसे किसी भी रूप में ना ठुकराए और इसके लिए पूर्ण समय निकालें। इससे आपके रिश्ते मधुर होंगे, आपको अपने कर्तव्यों का भान होगा और आपकी मानसिक स्थिति अच्छी रहेगी।

हर रोज कम से कम 20 मिनट का समय एक ऐसी प्रक्रिया के अंदर बिताएं जो आपको तनाव मुक्त करने में सहायता प्रदान करें

हो सकता है आपको संगीत सुनना बहुत ही अधिक पसंद हो जिसके माध्यम से आप अपने आप को तथा अपने दिमाग और शरीर को पूर्ण रूप से तनाव मुक्त कर पाने में सफल होते हो। या फिर हो सकता है आपको कोई किताब पढ़ना पसंद हो। या फिर पूजा करना, या कुकिंग करना, या कार्टून देखना, या तारों से भरा आसमान देखना। इन सब में से आप किसी भी चीज को अपने लिए उपयुक्त समझे उसे अपने दिन भर के समय में कम से कम 20 मिनट का समय दें। दिन में 20 मिनट का समय एक ऐसी क्रिया को करने में गुजारना चाहिए जो आपको तनाव मुक्त करने में सहायता प्रदान करें। इस प्रकार की क्रियाएं आपको अंदर से शांत करने में मदद करती हैं और आप तनावमुक्त तथा अपने आप को सकारात्मक कर सकते हैं।

किसी भी नई आदत को अपने अंदर शामिल करने के लिए आपको बस केवल 21 दिनों की जरूरत होती है। इसलिए ऐसी कोई चीज नहीं होती जो रातों-रात आप को सफल बना दें लेकिन यदि आप निर्धारित किए गए मार्गो को अपनाना आरंभ कर दे तो आप एक दिन जरूर सफलता प्राप्त करेंगे और इस प्रकार के कार्य आपको एक बेहतर भविष्य देने में सफल होंगे। जैसे जसे आप अपने अंदर इस प्रकार की आदतें पैदा कर लेते हैं तो आप अपने अंदर बहुत ही सकारात्मक परिवर्तन महसूस करने लगते हैं। आप अपने आप को अंदर से स्वस्थ महसूस करते हैं जिसके माध्यम से आप अपनी उत्पादन क्षमता को बढ़ा सकते हैंऔर इस प्रकार आप एक सफल विद्यार्थी साबित हो सकते हैं। सबसे उत्तम बात इस प्रकार की आदतें अपनाने के लिए आपको किसी भी प्रकार की आर्थिक मदद की आवश्यकता नहीं है। अतः आप आज से ही स्वयं को केंद्रित करें और आज ही अपने अंदर परिवर्तन लाना आरंभ कर दें।

Leave a Reply