जानिये बिल गेट्स (माइक्रोसॉफ्ट-संस्थापक) के बारे में 35 रोचक बातें

0
23
bill gates

बिल गेट्स माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक, परोपकारी, ’90 के दशक और 2020 के शुरूआती दो दशकों में टेक्नोलॉजी की दुनिया के सबसे आकर्षक, असाधारण और प्रभावशाली हस्तियों में से एक रहे हैं। भले ही आप ’90 के दशक में देर रात तक के टॉक शो देखने के लिए बहुत छोटे रहें हों, लेकिन फिर भी इस बात की पूरी संभावना है कि आप बिल गेट्स के बारे में जरूर जानते रहे होंगे उस समय भी और शायद कुछ सॉफ्टवेयर का उपयोग भी करते रहे हो जो बिल गेट्स द्वारा बनाए गए हैं – जैसे कि माइक्रोसॉफ्ट, एक्सेल, वर्ल्ड, विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम आदि। माइक्रोसॉफ्ट के कारण बिल गेट्स का नाम इतना घरेलू बन गया कि हर घर में लोग उनके नाम को जानने लग गए। बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन और उनके अविश्वसनीय परोपकारी कार्यों के लिए उन्हें सम्मान के साथ जाना जाता है। आज हम आपको यहां माइक्रोसॉफ्ट संस्थापक बिल गेट्स के बारे में कुछ ऐसे तथ्यों को बताएंगे जिन्हें शायद आप नहीं जानते होंगे।

“मेरा मानना है कि यदि आप लोगों को किसी कार्य से जुड़ी हुई समस्याएं दिखाते हैं और आप साथ ही उन्हें समाधान भी दिखाएं तो वह कार्य करने के लिए स्वयं चले जाएंगे।”

  1. बिल गेट्स को कई प्रोग्रामिंग भाषाओं में महारत हासिल है। लेकिन बातचीत करने में वह केवल अंग्रेजी भाषा ही बोल सकते हैं। दुनिया भर में कई तरह के धर्मार्थ प्रयासों में अपना हाथ रखने वाले बिल गेट्स का मानना है कि उन्हें उनकी मूल भाषा अंग्रेजी के अलावा किसी भी और भाषा में बोलना नहीं आता, जिसका उन्हें काफी पछतावा है।
  2. आपको जानकर आश्चर्य होगा कि दुनिया के सबसे धनी लोगों में से एक के रूप में शामिल बिल गेट्स को हरा रंग दिखाई ही नहीं देता। सन् 2006 के एक साक्षात्कार में इस अरबपति ने खुद इस बात का खुलासा किया था कि वे कलर-ब्लाइंड हैं।
  3. बिल गेट्स अपने जीवन के एक भी मिनट को बर्बाद नहीं करते। किसी महत्वपूर्ण और प्रभावशाली व्यक्ति के रूप में बिल गेट्स एक बेहद सुव्यवस्थित जीवन जीते हैं। उनके दिनों को मिनट-दर-मिनट शेडूल पर योजनाबद्ध किया जाता है, जिस तरह अमेरिकी राष्ट्रपतियों के दिन का निर्धारण किया जाता है।
  4. बिल गेट्स ने रिचर्ड डॉकिंस की भांति ही अपने धर्मनिरपेक्ष मानवतावादी विचारों को हमेशा खुलकर लोगों के सामने रखा, लेकिन साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वे धार्मिक प्रवृत्ति के व्यक्ति हैं। उन्होंने रोलिंग स्टोन को बताया कि वह अपने बच्चों को कैथोलिक कहलाना पसंद करेंगे और एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा मुझे लगता है कि “भगवान पर विश्वास करना मुझे जरूर समझ में आता है, लेकिन जिंदगी में आप किस प्रकार का निर्णय लेते हैं वह आपके ऊपर है।”
  5. एक साक्षात्कार में बिल गेट्स से पूछा गया कि “अगर बिल गेट्स माइक्रोसॉफ्ट के आविष्कारक ना होते तो क्या कर रहे होते ?” यह पूछे जाने पर अरबपति ने कहा कि वह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की तरफ काफी आकर्षित हैं और वह एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस शोधकर्ता बन जाते, यदि उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट सॉफ्टवेयर कंपनी स्थापित ना की होती तो।
  6. बिल गेट्स दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक हैं इनकी वर्तमान संपत्ति 95.4 बिलियन डॉलर है।
  7. बिल गेट्स ने पिछले 23 वर्षों से फोर्ब्स की दुनिया के अरबपतियों की सूची में पहले स्थान पर 18 बार कब्जा बनाया हुआ था। सन् 1995 से 2017 तक वह हमेशा सूची में सबसे ऊपर स्थान पर रहे। लेकिन जब से तकनीकी दिग्गज और वॉशिंगटन राज्य के निवासी जेफ बेजोस, अमेजॅन के संस्थापक ने दुनिया के सामने आए, उसके बाद से गेट्स नंबर दो के स्थान पर पहुंच गए।
  8. युवा बिल गेट्स को कंप्यूटर के साथ अपने करियर की शुरुआत मिली। सन् 1968 में 13 वर्षीय बिल गेट्स ने लेकसाइड स्कूल में प्रवेश लिया। जहां मदर्स क्लब ने उनके लिए एक कंप्यूटर खरीदा, यह एक “टेलेटाइप मॉडल 33” था। उस समय अमेरिका के कुछ ही स्कूलों में कंप्यूटर उपलब्ध था, जिनमें से लेकसाइड भी एक था।
  9. बिल गेट्स ने जल्द ही कंप्यूटर में प्रोग्रामिंग सीख कर प्रोग्रामिंग करने में लग गए थे। उन्होंने अपना पहला कंप्यूटर प्रोग्राम लेकसाइड स्कूल में एक किशोर के रूप में लिखा था। बेसिक प्रोग्रामिंग भाषा में लिखा गया उनका कंप्यूटर प्रोग्राम वास्तव में एक कंप्यूटर गेम था। जो उपयोगकर्ता को कंप्यूटर के साथ tic-tac-toe खेलने की अनुमति देता था।
  10. बिल गेट्स का शेडूल पूरी तरह से नियोजित है जहां उन्होंने मिनटों का भी हिसाब लगाया हुआ है। लेकिन आज भी वह अपने इस व्यस्त शेडूल में हर साल 50 किताबें पढ़ने का समय निकाल लेते हैं। वह प्रति सप्ताह लगभग एक पुस्तक पढ़ लेते हैं।
  11. बिल गेट्स ना सिर्फ एक उत्सुक पाठक है बल्कि उन्होंने दो पुस्तकें भी लिखी हुई हैं। “द रोड अहेड” जो कि 1995 में प्रकाशित हुई थी, इसे माइक्रोसॉफ्ट के कार्यकारी नाथन मेहरवॉल्ड ने लिखा था। उनकी दूसरी पुस्तक का नाम “बिजनेस @ द स्पीड ऑफ थॉट” सन् 1999 में प्रकाशित हुई थी।
  12. 1973 में बिल गेट्स ने लेकसाइड स्कूल से राष्ट्रीय मेरिट स्कॉलरशिप के रूप में स्नातक की डिग्री हासिल की। हालांकि हाई स्कूल के बाद उनकी शिक्षा लंबे समय तक के लिए नहीं चली। बिल गेट्स ने हावर्ड कॉलेज 2 साल करने के बाद कॉलेज छोड़ दिया था।
  13. 1975 में अल्टेयर 8800 कंप्यूटर में “लोकप्रिय इलेक्ट्रॉनिक्स” पर एक लेख पढ़ने के बाद बिल गेट्स ने माइक्रो इंस्ट्रूमेंटेशन और टेलीमेट्री सिस्टम से संपर्क किया और इनके रचनाकारों को कंप्यूटर में प्रोग्राम लिखने के बारे में बताया। बिल गेट्स और पॉल-एलन, लेकसाइड स्कूल के दौरान ही बचपन के दोस्त थे और उन्होंने माइक्रो-सॉफ्ट नामक एक कंपनी की स्थापना की। 1976 में हाइफन को गिराकर, माइक्रोसॉफ्ट का जन्म हुआ।
bill gates
  1. आजकल संगीत, फिल्में और कंप्यूटर प्रोग्रामों के अवैध डाउनलोडिंग तकनीकी और मनोरंजन उद्योगों के लिए एक बड़ा संकट जरूर है, परंतु यह कोई नई अवधारणा नहीं है। माइक्रोसॉफ्ट की स्थापना के एक साल के भीतर बिल गेट्स ने पाया कि माइक्रोसॉफ्ट के बेसिक कार्यक्रमों की एक कॉपी को लीक करके साझा किया जा रहा है। उन्होंने 1976 में एक पत्र के द्वारा यह दावा किया कि 90% से अधिक माइक्रोसॉफ्ट अल्टेयर बेसिक के उपयोगकर्ताओं ने कार्यक्रम के लिए भुगतान ही नहीं किया था और उन्होंने “हॉबी मार्केट” को यह धमकी दी, कि वह उन्हें अपंग कर देंगे जिससे डेवलपर जो माइक्रोसॉफ्ट की कॉपी को लीक करने का सॉफ्टवेयर बना रहे थे, काफी हतोत्साहित हो गए।
  2. वैसे तो बिल गेट्स ने अपने जीवन का यह नियम बनाया था कि वह जीवनपर्यंत चैरिटेबल कार्य करेंगे और अपने जीवन को अपवादों या मानहानि से मुक्त रखेंगे परंतु हमेशा ऐसा नहीं होता जैसा हम चाहते या सोचते हैं। बिल गेट्स के जीवन में भी कुछ ऐसा ही हुआ था। सन् 1975 में 22 वर्षीय बिल गेट्स को न्यू मैक्सिको में ज्यादा रफ्तार की गाड़ी चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया, इस वक्त इनके पास इनका लाइसेंस भी नहीं था। सन् 1997 में उन्हें फिर से गिरफ्तार किया गया, इस बार उनका जुर्म बिना लाइसेंस की गाड़ी चलाना था।
  3. 2008 में बिल गेट्स कॉमेडियन जैरी सीनफेल्ड के साथ माइक्रोसॉफ्ट के प्रचार के लिए विज्ञापनों की एक श्रृंखला में दिखाई दिए विज्ञापन में एक जोड़ी जूता खरीदने पर स्टोर डिस्काउंट देता है। जिसके लिए बिल गेट्स मेंबरशिप कार्ड दिखाते हैं, जिनमें उनकी सामान्य फोटो के स्थान पर, लोगों को सन् 1977 में तेज रफ्तार की उल्लंघन की वजह से उनकी खींची गई फोटो दिखाई देती है।
  4. ’70 के दशक में भी सैन फ्रांसिस्को की सिलिकॉन वैली और टैक्सास की “सिलिकॉन प्रेयरी”, अमेरिका में टेक्नोलॉजी उद्योग का केंद्र हुआ करतीं थीं। बिल गेट्स ने इस स्थिति के विपरीत जाकर अपनी कंपनी को अल्बुकर्क, न्यू मैक्सिको से वापस अपने गृह राज्य वॉशिंगटन बेलवेट में, अपने घर के बाहर सिएटल में स्थानांतरित कर दिया। 1986 में सॉफ्टवेयर दिग्गज रेडमंड, वाशिंगटन में स्थानांतरित हो गया और आज के समय में 8 मिलियन वर्ग फुट के परिसर में 30,000 से 40,000 कर्मचारियों के साथ काम करने का दावा करता है। साथ ही सिएटल, बेल्व्यू और इस्साक्वा में भी इसके अतिरिक्त कार्यालय स्थित है।
  5. यद्यपि बिल गेट्स को कंप्यूटर का महान ज्ञाता माना जाता है। परंतु इसका मतलब यह नहीं कि वह कंप्यूटर के सिवा और किसी अन्य विषय में उनकी रुचि नहीं थी, संगीत में बिल गेट्स की काफी रुचि थी। उन्हें एक संगीत प्रशंसक के रूप में जाना जाता है और कहा जाता हैै कि वीज़र उनका पसंदीदा अमेरिकन रॉक बैंड है। U2 और फिक्शनल रॉक ग्रुप स्पाइनल टैप, उनके अन्य पसंदीदा रॉक ग्रुप में शामिल हैं।
  6. बिल गेट्स इटली के पुनर्जागरण के चित्रकार और आविष्कारक लियोनार्डो द विंची को अपनी प्रेरणा के मुख्य स्रोत के रूप में गिनते हैं। वास्तव में इस अरबपति की सबसे प्रभावशाली खरीद में द विंची के वैज्ञानिक लेखन का एक संग्रह शामिल है। 1994 में गेट्स ने कोडेक्स लीसेस्टर के लिए $30.8 मिलियन का भुगतान किया, जिसमें जीवाश्मों पर द विंची का लेखन पानी और मिट्टी के क्षरण की गति और चंद्रमा की अद्भुत चमक के विषय में लेख शामिल है।
  7. दूसरे अरबपतियों की भांति बिल गेट्स को महंगी गाड़ियों या उड़ानों से परहेज था, जब तक कि उन्होंने अपना खुद का विमान 1997 में नहीं खरीद लिया। अपने विमान खरीदने के बाद उन्होंने उसकी उड़ान का अनुभव लिया।
  8. अपनी पत्नी मेलिंडा से बिल गेट्स की मुलाकात काम के दौरान हुई थी।मेलिंडा गेट्स (नी फ्रेंच) माइक्रोसॉफ्ट में प्रोडक्ट मार्केटिंग मैनेजर के रूप में काम करतीं थीं। बिल गेट्स के साथ उनकी मुलाकात रात के खाने के दौरान हुई। इस जोड़ी ने कई साल अपने रिश्ते को गुप्त रखा। सन् 1993 में सार्वजनिक होने से पहले, जब उन्होंने सगाई नहीं कर ली तब तक लोगों को उनके इस रिश्ते के बारे में भनक तक नहीं हुई। अंततः सन् 1994 में अपनी प्रेमिका से मिलिंडा से शादी कर ली।
  9. बिल गेट्स और उनकी पत्नी मेलिंडा के तीन बच्चे हैं – जेनिफर कैथराइन रोरी जॉन और फोएब एडेल। पिता की कुल $80 बिलियन से अधिक की संपत्ति में उनके प्रत्येक बच्चे को $10 मिलियन की संपत्ति उत्तराधिकार के रूप में मिलेगी। बिल गेट्स का मानना है “बच्चों के लिए अधिक मात्रा में पैसे देना उन पर कोई एहसान करना नहीं है।”
  10. बिल गेट्स और उनकी पत्नी मेलिंडा, वॉशिंगटन के मेडिना में रहते हैं। उनका घर वाशिंगटन में एक झील पर है जिसकी कीमत $125 मिलियन है। 66,000 वर्ग फुट की इस हवेली में पानी के भीतर ही म्यूजिक सिस्टम के साथ 60 फुट का स्विमिंग पूल है। यहां 2,500 वर्ग फुट का जिम भी है और उनका भोजन कक्ष अकेले 1,000 वर्ग फुट में फैला हुआ है। यह घर इतना भव्य है कि इस घर का संपत्ति कर प्रतिवर्ष $1 मिलियन डॉलर आता है।
  11. अपने जीवन काल के दौरान बिल गेट्स कई तरह के परोपकारी प्रयासों से जुड़े रहे। सन् 1999 में उन्होंने अपनी पत्नी के साथ बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की शुरुआत की। इस फाउंडेशन ने संयुक्त राज्य अमेरिका में पुस्तकालयों की फंडिंग, तपेदिक और मलेरिया जैसी बीमारियों का मुकाबला करने और अन्य गरीबी दर वाले देशों में कृषि विकास और टिकाऊ फसलों को प्रोत्साहित करने के लिए अरबों डॉलर का दान किया हुआ है। बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन दुनिया का सबसे बड़ा निजी परोपकारी संस्थान है। जिसमें $43 बिलियन डॉलर का समर्थन है।
  12. बिल तथा मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सबसे उल्लेखनीय कार्यों में से एक कार्य पीने के पानी के लिए किया गया संघर्ष है। इस फाउंडेशन ने गरीब और विकासशील देशों में स्वच्छ और पीने लायक पानी उपलब्ध कराने के लिए बहुत संघर्ष किया। सन् 2015 में “गेट्स द टुनाइट शो” में बिल गेट्स एक ऐसी मशीन को बढ़ावा देते हुए दिखाई दिए जो सीवेज से पीने योग्य पानी निकालता है। गेट्स और फालोन दोनों ने इस मशीन की सुरक्षा को साबित करने के लिए मशीन द्वारा फिल्टर किया गया एक गिलास पानी पी कर के सभी को दिखाया।
bill gates
  1. वैसे तो बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने दुनिया भर में ऐसे बहुत सारे कारणों को समर्थन दिया हुआ है जो जरूरतमंदों के लिए जरूरी थे, परंतु बिल गेट्स में आने वाले भविष्य में इससे भी ज्यादा करने का वादा किया हुआ है। उन्होंने “गिविंग प्लेज” में यह कसम खाई है कि अपनी मृत्यु के बाद, धर्मार्थ कारणों के लिए वह अपने धन का आधा हिस्सा दान में दे देंगे। टेक्नोलॉजी अरबपति एलन मस्क और अरबपति फाइनेंसर वारेन बफे ने भी इस प्रकार की अविश्वसनीय और अमूल्य प्रतिज्ञा को, बिल गेट्स को देखते हुए लिया हुई है।
  2. बिल गेट्स द्वारा किए गए अविश्वसनीय परोपकारी कार्यों की प्रेरणा शायद उन्हें उनके माता-पिता से मिली थी। उनकी मां, मैरी मैक्सवेल गेट्स ने “यूनाइटेड वे” के बोर्ड में सेवा की हुई थी।
  3. 1975 में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से बाहर होने के 2 साल बाद उन्होंने हार्वर्ड से अपनी डिग्री हासिल करने में कामयाबी हासिल की। यह डिग्री उन्हें सिर्फ नाम के लिए चाहिए थी। स्कूल ने उन्हें सन् 2007 में सम्मानार्थ उपाधि से सम्मानित किया। यह कहना गलत नहीं होगा कि बिल गेट्स के पास विभिन्न यूनिवर्सिटी से इस प्रकार की कई उपाधियों का संग्रह है। जैसे कि यूनाइटेड किंगडम में कैंब्रिज विश्वविद्यालय, चीन में सिंघुआ विश्वविद्यालय और जापान में वासेदा विश्वविद्यालय से भी उन्हें इस प्रकार की उपाधियां मिली हुई हैं।
  4. इस प्रकार की मानद उपाधियां ही केवल बिल गेट्स के परोपकारी कार्यों की सराहना नहीं करतीं अपितु इंग्लैंड की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने उनके धर्मार्थ और परोपकारी प्रयासों के समर्थन में 2005 में उन्हें ब्रिटिश साम्राज्य के सबसे उत्कृष्ट आदेश द्वारा “मानव नाइट कमांडर” बनाया, जो कि अपने आप में बहुत बड़ी उपाधि थी। इतना ही नहीं बिल गेट्स को मेक्सिको से एज़्टेक एगले का प्लाकाई, भारत का पद्म भूषण और अमेरिका के ब्वॉय स्काउट से सिल्वर बफेलो अवार्ड भी मिल चुका है।
  5. यूं तो बिल गेट्स ने कई बार अपनी तकनीकी सूझबूझ का परिचय दिया हुआ है, परंतु ऐसा हमेशा हो यह जरूरी नहीं। सन् 2004 में उन्होंने भविष्यवाणी की थी कि 2 साल के अंदर वह स्पैम ई-मेल का पूरी तरह खात्मा कर देंगे। परंतु आज इस बात को 20 वर्ष के करीब बीत चुके हैं, परंतु आज भी हमारे ई-मेल के इनबॉक्स में इस प्रकार के कई अवांछित संदेश से भरे होते हैं।
  6. बिल गेट्स ने सन् 2006 में बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन में अपने धर्मार्थ कार्यों पर अपना ध्यान केंद्रित करने के लिए माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ पद से इस्तीफा दे दिया था। आज के समय में वह माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ के रूप में कार्य नहीं करते हैं, हालांकि वह अभी भी वर्तमान सीईओ सत्या नडेला के सलाहकार के रूप में कार्य करते दिखाई देते हैं। ” व्यक्तिगत एजेंट” के रूप में उनकी भूमिका, “सब कुछ याद रखना और आपको वापस जाने और चीजों को खोजने में मदद करने के साथ ही ध्यान देने के लिए आपको किन चीजों को कैसे चुनना है” इसमें मदद करना है।
  7. माइक्रोसॉफ्ट की सफलता से करोड़पति बनने वाले बिल गेट्स अकेले व्यक्ति नहीं थे। जब यह कंपनी सन् 1986 में सार्वजनिक हुई तो इसके शेयर की कीमतों ने आसमान छू लिया और कंपनी की सफलता से बिल गेट्स के साथ 12,000 लोग करोड़पति बने।
  8. अपने अनगिनत परोपकारी कार्यों के बावजूद भी बिल गेट्स को कई बार अपने व्यवसाय के कारण कुछ आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा। सन् 1998 में माइक्रोसॉफ्ट को न्याय विभाग द्वारा लाये गए एक अविश्वास मुकदमें का सामना करना पड़ा। जिसने यह निर्धारित करने की मांग थी कि “क्या माइक्रोसॉफ्ट के सॉफ्टवेयर पैकेजों के बंडलिंग का उद्देश्य बाजार पर एकाधिकार लाना है?” इस मामले में यह आरोप लगाया गया कि “माइक्रोसॉफ्ट ने माइक्रोसॉफ्ट विंडोज चलाने वाले कंप्यूटरों पर प्रतिस्पर्धात्मक सॉफ्टवेयर स्थापित करने को मुश्किल बना दिया है। इतना ही नहीं साथ ही इन्होंने इंटरनेट एक्सप्लोरर जैसे प्रोग्राम को अनइंस्टॉल करना भी काफी मुश्किल कर दिया है जो स्वचालित रूप से विंडोस के साथ स्थापित हो जाते हैं।
  9. 2018 तक माइक्रोसॉफ्ट के दुनिया भर में 108,000 कर्मचारी काम करते हैं। हालांकि जब कंपनी ने पहली बार शुरुआत की थी तो बिल गेट्स ने अपने कर्मचारियों की आवागमन में बहुत ज्यादा व्यक्तिगत रुचि ली थी। उन्होंने यह स्वीकार किया कि वह अपने कर्मचारियों की लाइसेंस प्लेटों के नंबरों को याद कर लेते थे, जिससे कि वह उनके आने और जाने के समय पर नजर रख सकें। बाद में वह यह भी कहते हैं कि “आखिरकार उन्हें थोड़ा शिथिल होना पड़ा, क्योंकि कंपनी को उचित आकार देने के लिए यह जरूरी था।”
  10. स्कूली दिनों में बिल गेट्स ने अपनी प्रतिभा के द्वारा प्रोग्रामिंग करके लेकसाइड स्कूल में अपनी मदद की थी। स्कूल द्वारा उनसे कहा गया कि वह कक्षा की समय सारणी के लिए एक कार्यक्रम लिखें, जिसे बनाते समय बिल गेट्स ने कुछ कोड का संशोधन करके खुद को कक्षा के उच्च संख्या वाले वर्ग में अंकित किया।

Leave a Reply