Home जीवनशैली जानिये पॉवर बैंक खरीदने और मेन्टेन करने के ये 13 टिप्स

जानिये पॉवर बैंक खरीदने और मेन्टेन करने के ये 13 टिप्स

0
190

हम बहुत बार ऐसी स्थिती में फंस जाते हैं जब हमारे फोन की बैटरी डाउन हो जाती है, और हमें बहुत सारे जरूरी काम करने होते हैं। ऐसा अक्सर तब होता है जब हम अपने घर से बाहर कहीं घुमने या किसी यात्रा पर निकले हों। ऐसी स्थिती में पावर बैंक एक बहुत ही कीमती डिवाइस बन जाता है। मानों या ना मानों पर ज्यादातर लोग अपने पावर बैंक की बैटरी जल्दी से खत्म कर देते हैं चाहे उनके पावर बैंक में कितनी भी क्षमता हो। और ऐसे लोग बाद में पछताते हैं। यही कारण है कि हमने इस लेख में आपको 13 ऐसी टिप्स के बारे में बताया है जिससे आपको अपने पावर बैंक को बार बार चार्ज करने की जरूरत नहीं पडेगी ताकि आप इसे जरूरी मौको पर इस्तेमाल कर सकें। बहुत से लोगों को पावर बैंक को चार्ज करने के सही तरीके के बारे में नहीं पता होता है और इसी वजह से वे अपने प्यारे से पावर बैंक को खराब कर लेते हैं। अब, मुझे पक्का पता है कि आप इन 13 टिप्स को जानने के लिए बेताब हैं तो चलिये शुरू करते है सबसे पहली टिप के साथ-

1. अत्यधिक तापमान और नमी के संपर्क से बचें।

गर्मी और उमस पावर बैंक के सबसे बड़े दुश्मन हैं। अगर आप अपने पावर बैंक को अत्यधिक गर्मी या अत्यधिक नमी में रखते हैं तो यह कई प्रकार से आपके पावर बैंक को नुकसान पहुंचा सकते हैं। गर्मी आपके पावर बैंक की क्षमता को धीरे-धीरे कम कर देती है और उसमें चार्जर भी लगना बंद हो जाता है। और अत्यधिक नमी या आर्द्रता आपके पावर बैंक की उल्टी साइड में पानी फंसा देती है जिससे शोर्ट सर्किट का खतरा बन सकता है. उदाहरण के लिए,पावर बैंक को अत्यधिक गर्मी के समय में कभी भी किसी गर्म सतह पर नहीं रखना चाहिये क्योंकि इससे आपके पावर बैंक को काफी नुकसान पहुंचा सकता है. अपने पावर बैंक को अत्यधिक भाप में ना रखें क्योंकि ये अधिक आर्द्रता का उदाहरण है. भाप या नमी से निकलने वाले वाष्प के कण आपके पावर बैंक के अन्दर घुसकर इसे खराब कर सकते हैं।

2. अपने पावर बैंक को सही मौसम और तापमान में उपयोग करें।

ज्यादातर हम अपने पावर बैंक का इस्तेमाल घर से बाहर ही करते हैं।और अगर आप घर के बाहर हैं तो आपको अपने पावर बैंक को विभिन्न प्रकार के मौसम से सुरक्षित रखने की जरूरत पड़ती है। अगर बाहर बारिश हो रही है तो आपको कभी इसे बाहर नहीं निकालना चाहिये और इसे अपने बैग की जेब में ही रखना चाहिये जब तक बारिश बंद न हो जाए। या फिर आपको अपने पावर बैंक के लिए एक सुरक्षित केस खरीदना चाहिये। अगर बाहर बहुत ज्यादा गर्मी पड़ रही है तो आपको इसे कभी सीधे सूरज के प्रकाश में नहीं रखना चाहिये, बल्कि इसे छाया में रखना चाहिये। अपने पावर बैंक को लम्बे समय तक चलाने के लिए आपको इसे कभी अत्यधिक तापमान में नहीं रखना चाहिये।

3. पावर बैंक को पानी के सम्पर्क में न लायें।

कई बार ऐसा होता है कि आपका पावर बैंक और पानी से भरा गिलास एक ही मेज पर रखे होते हैं. तो ऐसे में अगर आप सावधानी नहीं रखते हैं तो गिलास का पानी आपके पावर बैंक पर गिर सकता है जो इसके लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है। बाकी सभी इलेक्ट्रोनिक उपकरणों की तरह पावर बैंक भी पानी के सम्पर्क में आने से खराब हो सकता है। तो अगली बार आप अपने पावर बैंक को ऐसी जगह रखिये जहां पानी या कोई और तरल पदार्थ न रखा हो। या फिर आप एक वाटर प्रूफ पावर बैंक भी खरीद सकते हैं जिसे आप बारिश में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे वाटर प्रूफ तथा डस्टप्रूफ  पावर बैंक साधारण पावर बैंकों के मुकाबले काफी महंगे आते हैं.

Powerbanks are essential for travel plans

4. पावर बैंक पर जोर न डालना तथा इसे नीचे गिरने से बचाना।

भले ही हम अपने पावर बैंक का कितना भी ध्यान रखते हो लेकिन हम इसे दुर्घटनावश कभी भी फर्श पर गिरा सकते हैं। अगर पावर बैंक बहुत जोर से फर्श पर गिरता है तो ये बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो सकता है। हो सकता है आपने अपने पावर बैंक को एक या दो बार गिराया हो पर आप भाग्यशाली रहे हो और इसे कोई नुकसान ना पहुंचा हो लेकिन ध्यान रहे बार-बार ऐसा करने से ये अन्त में टूट ही जायेगा। इसलिएइसे गिराने या इस पर जोर डालने से बचें। पर एक तरीका है अपने पावर बैंक को गिरने के बाद भी नुकसान से बचने का. मोबाइल फोन की तरह पावर बैंक में सिलिकॉन रबर का बना हुआ सुरक्षात्मक केस आता है जो आपके पावर बैंक को नीचे गिरने पर कोई हानि नहीं पहुंचने देता है। पर ऐसे कवर केवल जाने-माने ब्राण्ड के पावरबैकों के साथ ही आते हैं। तो तुरन्त अपने पावर बैंक के ब्राण्ड व मॉडल को गूगल पर खोजीए। इसके लिए ऐसा केाई केस उपलब्ध है या नहीं? या फिर आप वे पावर बैंक भी खरीद सकते हैं जो पहले से ही एक सिलिकॉन रबर केस के साथ आते हैं। मगर ध्यान रहे चाहे आपके पावर बैंक के साथ सिलिकॉन रबर केस हो या ना हो, हमेशा इसे नीचे गिराने से परहेज करें ताकि यह ज्यादा समय तक चल सके।

5. अपने पावर बैंक को नियमित रूप से इस्तेमाल करें।

जब भी संभव हो दैनिक आधार पर अपने पावर बैंक को इस्तेमाल करना बहुत जरूरी है। यह पॉवरबैंक की बैटरी को स्वस्थ रखने के साथ-साथ इसके चार्जींग समय को भी बेहतर बनाएगा। अगर आप अपने पावर बैंक को पिछले काफी समय से इस्तेमाल नहीं कर रहें हैं तो यह आपके पावर बैंक के जीवन को नकारात्मक रूप से प्रभावित करेगा। यह इसे इस तरह प्रभावित करेगा कि आपका चार्जर इसे पूरी तरह चार्ज नहीं कर पाऐगा। और इसका स्थायी समय भी कम हो जाएगा। यदि आपको कुछ समय तक अपने पावर बैंक को इस्तेमाल करने की आवश्यकता नही है तो इसे महीने में एक बार चार्ज व डिस्चार्ज करना काफी अच्छा रहेगा। यह आपके पॉवर बैंक के स्वास्थ्य को अच्छा रखने के लिए ज़रूरी है.

6. पावर बैंक चार्ज करते समय अपने फोन को भी उसी समय उसी पावर बैंक से चार्ज न करें

नियमित रूप से ऐसा करने से आप अपने पावर बैंक को बहुत तेजी से नुकसान पहुंचा रहे हैं। जब आप अपने पावर बैंक को चार्ज करते हैं तो यह बहुत ज्यादा गर्म हो जाता है क्योंकि इलेक्ट्रोनों का प्रवाह पूरे पावर बैंक में होता है। जब आपका पावर बैंक चार्ज होता है तब एनोड (धनात्मक भाग) से केथोड(ऋणात्मक भाग) तक इलेक्ट्रोन प्रवाहित होते हैं। यह प्रवाह बैटरी को बुरी तरह से गर्म कर देता है। उदाहरण के लिए जब आप पावर बैंक को फोन चार्ज करने के लिए इस्तेमाल करते हैं तो इलेक्ट्रोन विपरित दिशा में, एनोड से केथोड तक प्रवाहित होते हैं। इस वजह से भी यह गर्म हो जाता है। अब, आप एक ही समय में द्वि-दिशात्मक प्रवाह की कल्पना करें. यह अधिक अनावश्यक गर्मी का कारण बन जाता है जो पावर बैंक को तेजी से नुकसान पहुंचाता है. क्योंकि इस स्थिति में पावर बैंक को दो बार कड़ी मेहनत करनी पडती है। इससे आंतरिक इलेक्ट्रीक सर्किट को भी नुकसान पहुंचता है और बैटरी भी कम चार्ज होती है।

7. नुकसान से बचने के लिए हमेषा पावर बैंक के मूल चार्जर का ही इस्तेमाल करें।

आजकल बहुत से सस्ते और डुप्लीकेट चार्जर उपलब्ध है. यदि आपके पावर बैंक का मूल चार्जर खराब हो जाता है तो किसी भी परिस्थति में कोई दुसरा चार्जर इस्तेमाल न करें. हमेशा मूल चार्जर ही खरीदें। कुछ पावर बैंक चार्जर सस्ते जरूर आते हैं पर उनकी गुणवत्ता एकदम खराब होती है और ऐसे सस्ते चार्जर आपके अच्छे खासे पावर बैंक को खराब कर सकते हैं। खराब चार्जर आपके पावर बैंक को पर्याप्त वोल्टेज प्रदान नहीं करेगा और कम समय में इसे नुकसान पहंुचाएगा। सस्ते चार्जरो के अन्दर बहुत कम घटक होते हैं. यहां तक की इनमें अचानक बिजली के झटकों से सुरक्षा के लिए आवश्यक वोल्टेज भी नहीं आता है जो आपके पावर बैंक को चाहिये होता है। दूसरी ओर मूल चार्जर विशेष रूप से केवल आपके ही पावर बैंक के लिए बनाये जाते हैं। इसलिए आपको हमेशा मूल चार्जर के साथ ही चार्जिंग करनी चाहिये।

8. हमेशा पावर बैंक को पूरी तरह चार्ज करना सुनिश्चित करें।

ज्यादातर लोग आमतौर पर घर से बाहर जाते समय अपने पॉवर बैंक को पूरी तरह चार्ज करना भूल जाते हैं। और फिर उन्हें बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। लेकिन कभी कभी ऐसा भी होता है कि आप अपने पावर बैंक को रात भर चार्ज में लगाकर छोड़ देते हैं। आपने शायद ओवरचार्ज के बारे में सुना होगा। इसका मतलब होता है कि आप पावर बैंक को जरूरत से ज्यादा चार्ज कर रहे हैं। इससे पावर बैंक को बहुत ज्यादा नुकसान झेलना पड़ सकता है क्यों कि इसका सीधा असर पावर बैंक की बैटरी पर पडता है और इससे बैटरी का जीवन छोटा हो जाता है। पर आजकल ऐसा नहीं है क्योंकि आजकल पावर बैंकों को ओवरचार्ज से सुरक्षित बनाया जाता है मतलब आप रात भर अपने पावर बैंक को चार्ज लगाकर छोड़ सकते हैं क्यों कि जब भी आपका पावर बैंक पूरा चार्ज हो जाएगा तब स्वीच अपने आप ही बंद हो जाएगा । तो आप बिना किसी परेशानी के पावर बैंक को रात में चार्ज लगा सकते हैं ताकि सुबह तक आपको पुरी तरह चार्ज हुआ पावर बैंक मिले।

9. आप जो भी पॉवर बैंक खरीदते हैं उसके बारे में अवगत रहें।

जब पावर बैंकों की बात आती है तो सारे पावर बैंक एक जैसे नहीं होते हैं। मार्केट में बहुत सारे अच्छी गुणवता वाले पावर बैंक उपलब्ध हैं जिनमें से आप कोई भी अपने लिए चुन सकते हैं।लेकिन पॉवर बैकों के इस विशाल मार्केट में एक सही पावर बैंक चुनना काफी कठिन है। इनमें से कुछ तो ऐसे होते है जो आपके फोन को एक बार चार्ज करने के बाद ही खराब हो जाते है और कुछ दो या तीन बार चार्ज करने के बाद खराब हो जाते हैं.आप अपने पावर बैंक में कौन कौनसे फीचर्स चाहते है ये पूर्णतया आप पर ही निर्भर करता है. आप एक ऐसा पावर बैंक खरीद सकते हैं जिसमें आपकी जरूरत के हिसाब से सभी फीचर्स हों। वैसे सबसे ज्यादा ध्यान में रखने वाला फीचर तो बैटरी का ही होता है। ज्यादातर पावर बैंको में लिथियम-आयन बैटरी आती है जिनकी कार्यक्षमता अधिक नहीं होती. दूसरी तरफ है लिथियम पोलिमर बैटरी. ये बैटरी थोड़ी महंगी जरूर आती है पर इसकी उम्र काफी लम्बी होती है सामान्य बैटरीयों से

10. पॉवर बैंक खरीदते वक़्त चार्जिंग दर का ध्यान रखें.

प्रत्येक मोबाइल डिवाइस में mAH नाम से एक विशिष्ट आवश्यक चार्जिंग दर होती है। पुराने उपकरणों को चार्ज करने के लिए लगभग 1A या 1000 mAH की आवश्यकता होती है। और अधिकांश भागों के लिए आप किसी भी पावर बैंक को इस्तेमाल कर सकते हैं क्योंकि लगभग सभी पावर बैंक 1A का विदयुत उत्पादन करने में सक्षम होते हैं। लेकिन टेबलेटस के अन्दर बड़ी तथा अधिक क्षमता वाली बैटरी होती है जिसे चार्ज करने के लिए 2.1 A की आवश्यकता होती है। ऐसे मे आपको एक ऐसे पावर बैंक की जरूरत पड़ती है जो 2.1 A का विदयुत उत्पादन कर सके। और इस डिवाइस को 5 V के चार्जर की आवश्यकता होती है। इससे हम एक आवश्यक चार्ज क्षमता की गणना कर सकते हैं।

5V X 1V = 5 वाॅट
5V X 2.1V = 10.5 वाॅट

पावर बैंको के लिए भी यहीं बात लागू होती है. यदि आपके फोन को फास्ट चार्जींग की आदत है तो आपका पावर बैंक केवल 1A बिजली का उत्पादन ही कर पाऐगा जो कि चार्जिंग प्रदर्शन को नुकसान पहुंचा सकता है। तो आपको पावर बैंक खरीदने से पहले अपने फोन के बारे में ज्ञान होना बहुत ज्यादा जरूरी है नहीं तो आप गलत पावर बैंक खरीद सकते हैं।

powerbank should be kept in charged state for long life

11. सस्ते और नुकसानदायक रसायनों से पावर बैंक को साफ न करें।

हर बार थोड़ी देर में पावर बैंक गंदे हो जाते है जिन्हे साफ करना पड़ता है। हम इसे तुरंत साफ नहीं करते है क्योंकि हमे थोड़ी देर बाद इसका पता चलता है। जब हम पावर बैंक को पकड़ते हैं तो यह हमारे हाथों में लगी हुई तेल की पतली परत पावर बैंक के अन्दर चली जाती है और ये तेल धूल व गंदगी के कणों को अपनी तरफ आकर्षित करता है। अगर आपको लगता है कि पावर बैंक को साफ करने के लिए कुछ कठोर रसायनों की आवश्यता पड़ती है तो आप बिल्कुल गलत हैं। अगर आप इस प्रकार के केमिकल को इस्तेमाल करेंगे तो बेशक आप अपने प्यारे से पावर बैंक को बर्बाद कर देंगे। क्यों कि लगभग सभी केमिकल्स में धातु के तत्व होते हैं जो तेजी से आक्सीकरण के शिकार हो जाते हैं तथा पॉवर बैंक को खराब कर सकते हैं. इसलिए अपने पावर बैंक के साथ ऐसा कभी न करें. अब आप सोच रहें होंगे कि क्या ऐसीटोन इस गन्दगी को साफ कर सकता है। आप सही साच रहें हैं पर क्या आपको पता है इससे और क्या क्या हो सकता है? ऐसीटोन एक मजबूत रसायन है जो एक प्लास्टिक को भी पिघला सकता है। और आपको तो पता ही है कि अधिकांश पावर बैंक प्लास्टिक के ही बने होते हैं। और इसे गलत तरीके से इस्तेमाल किया गया तो यह आपके पावर बैंक में गन्दगी भर देगा. पावर बैंक को साफ करने के लिए आप केवल एक सुती कपडे का (या मलमल के कपडे का) और आइसोप्रोपिल एल्कोहल का उपयोग कर सकते हैं. यह सुरक्षित है और यह प्लास्टिक के आवरण को भी नही पिघलाएगा। अपने पावर बैंक को अच्छे से संभालकर इस्तेमाल करें।

12. पावर बैंक खरीदते समय इसकी क्षमता पर पूरा ध्यान दें.

जब आप पावर बैंक खरीदने जाते हैं तो अक्सर आप विशाल संख्याओं को देखेंगे जो एम्पेयर मे व्यक्त की जाती हैं। यह पावर बैंक की क्षमता को दर्शाती है। जब आप किसी पावर बैंक पर 10000 एम्पेयर लिखा हुआ देखते है तो इसका मतलब है कि इसकी बैटरी क्षमता बहुत ज्यादा अधिक है। पर क्या आप जानते हैं कि आपको अपने फोन को चार्ज करने के लिए इसका केवल 80 प्रतिशत ही मिलता है। बाकि का 20 प्रतिशत गर्मी की वजह से परिवेश मे खो जाता है। तो जब भी आप कोई नया पावर बैंक खरीदें तो उसमें से इस 20 प्रतिशत के नुकसान को अवश्य घटाइये। आप एक ऐसा पावर बैंक खरीदें जिसमें आपकें फोन को चार्ज करने की पर्याप्त क्षमता हो।

13. सस्ता पावर बैंक न खरीदें.

अगर आपके पास अच्छे खासे पैसे तो मै आपसे अनुरोध करता हूं कि कंजूसी दिखाए बिना एक अच्छा पावर बैंक ही खरीदें। क्यों कि एक अच्छे पावर बैंक की गुणवता काफी अच्छी होती है। और जीवन भी काफी लंबा होता है। अगर हम बात करें सस्ते पावर बैंकों की तो मैं आपकों बताना चाहुंगा कि इनकी ना तो गुणवता अच्छी होती है और ना ही इनमें कोई खास फीचर्स मिलते हैं। सस्ते पावर बैंक कुछ बार चार्ज करते ही खराब हो सकते है तो आप देख परख के, इस्तेमाल करने वालों के फीडबैक देख के ही कोई पावर बैंक खरीदें।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here